Shobit University Gangoh
 
 

मौनी अमावस्या पर त्रिवेणी स्नान कर भारत लौट रहे श्रद्धालुओं से भरी बस पलटी, 45 लोग घायल

मौनी अमावस्या पर त्रिवेणी स्नान कर भारत लौट रहे श्रद्धालुओं से भरी बस पलटी, 45 लोग घायल
  • श्रद्धालुओं से भरी बस नेपाल के त्रिवेणी धाम से स्नान कर वापस आ रही थी। इसी दौरान बस अचानक अनियंत्रित होकर पुलिया से टकरा गई और 15 फीट नीचे गिर गई। हादसे में 10 मासूमों समेत 45 लोग घायल हुए हैं।

ठूठीबारी :  मौनी अमावस्या के अवसर पर नेपाल के त्रिवेणी धाम से स्नान कर वापस भारत अपने घर लौट रहे श्रद्धालुओं से भरी बस शनिवार की सुबह नेपाल के सीमावर्ती क्षेत्र महेशपुर में अनियंत्रित होकर पलट गई। हादसे के बाद मौके पर अफरा-तफरी मच गई। बस पलटने से उसमें सवार 45 लोग घायल हुए हैं। जिसमें 10 बच्चे हैं। घायलों को इलाज के लिए पृथ्वीचंद जिला अस्पताल नवलपरासी में भर्ती कराया गया है।

अचानक अनियंत्रित होकर पुलिस से टकराई बस

गोरखपुर जिले के कैंपियरगंज, भौराबारी के अलावा महराजगंज जिले के लक्ष्मीपुर के श्रद्धालु दो दिन पूर्व ही मौनी अमावस्या पर्व को लेकर नौतनवा से एक बस बुक कर नेपाल राष्ट्र के त्रिवेणी धाम में स्नान करने गए थे। शनिवार की सुबह करीब 11 बजे स्नान के बाद 70 श्रद्धालुओं को लेकर बस भारत के लिए रवाना हुई। अभी बस महेशपुर पहुंची ही थी कि अनियंत्रित होने के बाद दुर्घटनाग्रस्त हो गई। पुलिया में टक्कर के बाद करीब 15 फीट नीचे गिरने की वजह से बस में सवार यात्री गंभीर रूप से घायल हो गए। हादसे के बाद मौके पर चीख पुकार मच गई। अफरा-तफरी के बीच आनन-फानन घायल लोगों को निकाला गया। अभी भी कुछ लोगों के फंसे होने की बात कही जा रही है।

jagran

अस्पताल में भर्ती कराए गए घायल श्रद्धालु

इस हादसे में अभी तक घायलों में लक्ष्मीपुर निवासी रामगोपाल, विन्ध्यांचल, फागू और किशन तथा गोरखपुर कैंपियरगंज निवासी श्रीनिवास, सुनीता यादव और रामदास यादव सहित अन्य श्रद्धालुओं को पृथ्वीचंद जिला अस्पताल नवलपरासी में भर्ती कराया गया है। बचाव कार्य में लगे जिला प्रहरी कार्यालय के एसआइ जेके आचार्य ने बताया कि नेपाल सशस्त्र प्रहरी और नेपाल पुलिस की संयुक्ट टीम द्वारा बचाव कार्य किया जा रहा है। घायलों को अस्पताल भेजा गया है। अबतक बस से 45 लोगों को निकाला जा चुका है, जबकि कुछ और लोगों के फंसे होने की आशंका है।


पत्रकार अप्लाई करे Apply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *