अल्पसंख्यक मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जमाल सिद्दीकी ने दारुल उलूम के जिम्मेदार उलेमाओं की मुलाकात

अल्पसंख्यक मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जमाल सिद्दीकी ने दारुल उलूम के जिम्मेदार उलेमाओं की मुलाकात
  • देवबंद दारूलउलूम के उलेमा ए कराम को तिरंगा अभियान की जानकारी देते कुंवर बासित खां

देवबंद [24CN]: दारुल उलूम देवबंद में गुरुवार को भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के राष्ट्रीय व प्रदेश स्तर के नेता देश की आजादी की 75 वीं वर्षगांठ पर तिरंगा अभियान को  लेकर पहुंचे और दारुल उलूम के जिम्मेदार उलेमाओं से मुलाकात कर  उन्हें राष्ट्रध्वज भेंट किया।

अल्पसंख्यक मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जमाल सिद्दीकी प्रदेश अध्यक्ष कुंवर बासित अली प्रदेश उपाध्यक्ष जावेद मालिक ने भारत सरकार द्वारा चलाए जा रहे घर-घर तिरंगा अभियान की उलेमा को जानकारी देते हुए देश की आजादी के लिए दी जाने वाली दारुल उलूम देवबंद की कुर्बानियों की प्रशंसा की। इस अवसर पर भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जमाल सिद्दीकी ने कहा कि देश की आजादी में दारुल उलूम का बड़ा  अहम किरदार रहा है’ इसलिए इस अभियान में  दारुल उलूम का सहयोग अति आवश्यक है।

दारुल उलूम की शिक्षा व्यवस्था की प्रशंसा की
वरिष्ठ उलेमा से बात करते हुए जमाल सिद्दीकी ने दारुल उलूम की शिक्षा व्यवस्था की  प्रशंसा करते हुए कहा कि दारुल उलूम  को ऐसी शिक्षा व्यवस्था करनी चाहिए  जिससे यहां से आईएएस और आईपीएस जैसे पदों पर भी जाने के लिए युवा तैयार हो सके। उन्होंने कहा कि दारुल उलूम  ने हमेशा देश प्रेम भाईचारे और एकता का संदेश दिया है लेकिन कई लोग दारुल उलूम के बारे में गलत सोच रखते हैं जिन्हें यहां आकर इस संस्था को देखना और समझना चाहिए। जमाल सिद्दीकी ने कहा कि उनकी दारूल उलूम आने की  तमन्ना थी आज यहां कर बहुत खुशी हुई है। उन्होंने कहा कि उलेमा से मुलाकात करने और दुआ लेने के लिए यहां आए थे। इस दौरान मौलाना मुनीरउद्दीन कासमी और मौलाना सलमान बिजनौरी ने भाजपा नेताओं को दारुल उलूम के विषय मे विस्तार से जानकारी दी और बताया कि दारुल उलूम में हमेशा स्वतंत्रता दिवस और

गणतंत्रता दिवस के अवसर पर भव्य कार्यक्रमो का आयोजन होता है’  देश को आजाद कराने में  उलेमा ने मुख्य भूमिका निभाई  और दारुल उलूम देवबंद की स्थापना का मकसद ही देश की आजादी था। उन्होंने सरकार के इस अभियान की प्रशंसा की और हर संभव सहयोग का आश्वासन दिया। जमाल सिद्दीकी और अन्य नेताओं ने दारुल उलूम  की नई व पुरानी लाइब्रेरी,  रशीदिया मस्जिद  सहित अन्य इमारतों का भ्रमण किया। इस दौरान पूर्व विधायक चैधरी जाकिर हुसैन, मौलाना असजद, मौलाना शफीक, मौलाना मुकीमउद्दीन, इंजीनियर मोहम्मद अनवर, डॉक्टर कमरूजमा कुरैशी, मोर्चा के जिलाध्यक्ष हैदर अली, जिला महामंत्री अहसान राव, नगर अध्यक्ष मुर्तजा कुरैशी भी मौजूद रहे’


पत्रकार अप्लाई करे Apply