कोरोना का कहर: चीन में मरने वालों की संख्या 1000 के पार, 4008 से ज्यादा नए केस आए सामने

 

चीन में कोरोनावायरस का कहर लगातार जारी है। इससे मरने वालों की संख्या 1000 के पार पहुंच गई है। इसके साथ ही 4000 से अधिक नए मामले सामने आए हैं। ऐसे में इस वायरस से संक्रमित होने वाले मरीजों की संख्या अब तक 42,600 तक पहुंच गई है।

इससे पहले चीन में कोरोना वायरस से रविवार को एक ही दिन में 97 लोगों की मौत हो गई जो कि एक दिन में हुई सबसे अधिक मौतों का आंकड़ा था। वहीं रविवार को 4008 नए केस सामने आए, जिसमें 296 मरीजों की हालत काफी गंभीर थी। रविवार को ही 3281 लोगों में संक्रमण खत्म होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। अब तक 40 हजार से अधिक केस सामने आ चुके हैं। 27 देशों में यह वायरस दस्तक दे चुका है।

चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने मास्क पहनकर लिया जायजा
चीनी राष्ट्रपति शी जिनफिंग सोमवार को मास्क पहन कर यहां बने कोरोना वायरस शोध केंद्र में पहुंचे और इस बीमारी पर नियंत्रण पाने के उपायों पर चल रहे कामकाज का जायजा लिया। इस बीमारी के सामने आने के बाद राष्ट्रपति पहली बार इस वायरस से निपटने में जूझ रहे लोगों से मिले हैं। वह इस दिशा में चोयांग जिले में शोध के लिए बने केंद्र पर पहुंचे थे। सरकारी जानकारी के अनुसार राजधानी में सोमवार को कामकाज पटरी पर लौटने लगा है।

मोदी के खत के जवाब में चीन ने कहा धन्यवाद 
पीएम मोदी की चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग को मदद को लेकर लिखे खत पर चीन ने जवाब दिया है। चीन ने इस कदम को भारत-चीन की गहरी दोस्ती का प्रतीक बताया । चीनी विदेश मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया  कि भारत की ओर से कोरोना वायरस को लेकर जो समर्थन की बात कही गई, उसके लिए हम धन्यवाद करते हैं।

भारत का ऐसा कहना चीन के साथ उसकी गहरी दोस्ती को दर्शाता है। हम भारत और दुनिया के सभी देशों के साथ काम करने को तैयार हैं, ताकि इस वायरस के खिलाफ लड़ाई लड़ सके। बता दें कि रविवार को मोदी ने जिनपिंग को चिट्ठी लिखी थी।

इसमें अभी तक कोरोना वायरस की वजह से चीन में हुए नुकसान पर अफसोस जाहिर किया गया था और भारत की ओर से किसी भी तरह की सहायता की पेशकश की थी। अपने खत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हुबेई प्रांत से भारतीय नागरिकों को निकालने में चीनी सरकार के द्वारा की गई मदद का सराहना की थी।

 
 

Related posts

Top