कुंवर शेखर विजेंद्र आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज में मनाई गई महर्षि चरक की जयंती

कुंवर शेखर विजेंद्र आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज में मनाई गई महर्षि चरक की जयंती

गंगोह  [24CN] : 13 अगस्त 2021 शोभित विश्वविद्द्यालय के तत्वाधान में कुंवर शेखर विजेंद्र आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज एंड रिसर्च सेण्टर द्वारा आयुर्वेद सहिंता एवं सिद्धांत विभाग में महर्षि चरक जयंती का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम का सञ्चालन डॉ. प्रीती वशिष्ठ, डॉ. सविता पंवार, एवं डॉ. शालिनी वर्मा द्वारा किया गया। कुंवर शेखर विजेंद्र आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. ऐस. के. पाठक द्वारा महर्षि चरक के बारे में विस्तृत विवेचना की गयी।

 Maharishi Charak Jayanti

विभागाध्यक्ष डॉ. विकास कुमार शर्मा द्वारा महर्षि चरक के जीवन पर प्रकाश डाला गया। डॉ. शर्मा ने बताया की आज से लगभग दो हजार वर्ष पूर्व श्रावण महीने की पंचमी तिथि को भारत में स्वनाम धान्य चिकित्सक महर्षि चरक का जन्म हुआ था। नाग पंचमी के दिन इनका जन्म हुआ था। इसिलिये कुछ लोगो का इन्हे शेषनाग का अवतार भी मानते है। आचार्य चरक वैशम्पायन के शिष्य थे तथा यायावर श्रेणी की ऋषि थे। वेद उपनिषदों का अध्ययन करने के उपरान्त महर्षि चरक ने आयुर्वेद का अध्ययन आरम्भ किया। उन्होंने महर्षि पुनर्वसु आत्रेय के द्वारा उपदिष्ट और आचार्य अग्निवेश के द्वारा लिखित ग्रन्थ भगनिवेश तंत्र हो की व्यवस्थित अवस्था में नहीं था। उसको व्यवस्थित एवं परिष्कृत अवस्था में किया। महर्षि चरक के बताये गए सिद्धांत एवं सूत्र आज के आधुनिक युग एवं भागदौड़ भरी जीवन शैली में वरदान सावित हो रहे हैं।

इस आयोजन में डॉ. नामित वशिष्ठ, डॉ. मदन मोहन शर्मा , डॉ. आरिफ नसीर, डॉ. ज्योति सिंह, डॉ. तृप्ति आचार्य, डॉ. जीतेन्द्र राणा, डॉ. रंजीत, डॉ. मोनिका, डॉ. मिनाश्री, डॉ. वन्दना, डॉ. नूपुर, डॉ. वाणी, डॉ. एरोमा, डॉ. सुमन, डॉ. कुशाग्र गोयल आदि ने अपना सहयोग प्रदान किए एवं आयोजन को सार्थक बनाया। आयोजन के समापन में डॉ. प्रीती वशिष्ठ ने सभी का आभार प्रकट किया और कार्यक्रम सफलतापूर्वक संपन्न हो गया।


पत्रकार अप्लाई करे Apply