Gujjar Reservation Movement: गुर्जरों और सरकार के बीच सहमति बनी,अब आंदोलन होगा खत्म

Gujjar Reservation Movement: गुर्जरों और सरकार के बीच सहमति बनी,अब आंदोलन होगा खत्म

जयपुर । राजस्थान सरकार और गुर्जर नेताओं के बीच बुधवार रात समझौता हो गया। इसके साथ ही पिछले 11 दिन से चल रहे आंदोलन को खत्म करने का रास्ता साफ हो गया है। अब गुर्जर नेता गुरूवार को भरतपुर के पिलूकापुरा रेलवे ट्रेक पर जाकर समाज के लोगों के बीच जाकर आंदोलन खत्म करने की घोषणा करेंगे सरकार और गुर्जर नेताओं के बीच 6 मांगों पर सहमति बनी है।

जानकारी के अनुसार करीब सात घंटे तक कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला की अगुवाई में 11 सदस्यीय गुर्जर नेताओं की जलसंसाधन मंत्री डॉ. बी. डी. कल्ला, तकनीकी शिक्षा मंत्री सुभाष गर्ग, श्रम मंत्री टीकाराम जुली वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक हुई। वार्ता में दोनों पक्षों में सहमति बनने के बाद गुर्जर नेता मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मिलने पहुंचे। यहां गहलोत ने गुर्जर नेताओं को समाज के सभी हितों का ध्यान रखने का आश्वासन दिया है। पिछले 11 दिन से चल रहे आंदोलन के कारण 5 जिलों में 12 दिन से इंटरनेट बंद था, 1200 रोड़वेज बसें नहीं चली, इस दौरान करीब 70 रेलों का मार्ग बदला गया है। आधा दर्जन ट्रेन रद्द की गई है।

इन मुद्दों पर बनी सहमति

सरकार और गुर्जर नेताओं में सहमति बनी की राज्य सरकार द्वारा अति पिछड़ा वर्ग में दिए गए 5 फीसदी आरक्षण को संविधान की नौंवी अनुसूची में शामिल कराने को लेकर राज्य सरकार केंद्र सरकार को एक बार फिर पत्र लिखेगी। दो पत्र पूर्व में लिखे जा चुके हैं । पिछले आंदोलन मे मारे गए 3 लोगों के आश्रितों को सरकारी नौकरी देने के साथ ही उनकी विधवाओं को 5-5 लाख की आर्थिक सहायता दी जाएगी।

देवनारायण बोर्ड का गठन शीघ्र करने के साथ ही जयपुर में छात्राओं के लिए देवनारायण भवन का निर्माण होगा । देवनारायण योजना का बजट खर्च करने को लेकर कमेटी बनेगी। इसके साथ ही गुर्जर समाज के 1252 अभ्यार्थियों को नियमित वेतन क्षृंखला दी जाएगी । बैकलॉग पूरा करने को लेकर राज्य सरकार ने विधिक अड़चन बताई तो इसका हल निकालने को लेकर सहमति बनी है।


पत्रकार अप्लाई करे Apply