George Floyd: तीन ब्रिटिश युवकों ने फ्लॉयड की मौत का उड़ाया मजाक, अरेस्ट

 

 

  • जॉर्ज फ्लॉयड की मौत का मजाक बनाना तीन युवकों को भारी पड़ गया
  • ब्रिटेन की पुलिस ने केस दर्ज कर तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया
  • अश्वेत जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस हिरासत में मौत से अमेरिका में भारी तनाव
  • एक वायरल वीडियो में तीनों फ्लॉयड की मौत की नकल करते दिख रहे थे

लंदन
अमेरिकी अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड (George Floyd) की मौत पर विरोध की आग अमेरिका समेत दुनियाभर के कई देशों तक पहुंच चुकी है। लोग श्वेत-अश्वेत को लेकर होने वाले सामाजिक भेदभाव के खिलाफ सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं इस बीच कुछ लोग ऐसे भी हैं जो इतने संवेदनहीन हैं कि निर्दोष फ्लॉयड की मौत का मजाक उड़ा रहे हैं। लंदन के वाले ऐसे ही तीन ब्रिटिश युवकों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, तीनों को समाज में नफरत फैलाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। तीनों ने स्नैपचैट पर एक वीडियो शेयर किया था। वीडियो में तीनों फ्लॉयड की मौत की नकल करते दिख रहे हैं। इसके बाद यह वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो गया और इसका विरोध किया जाने लगा।

विरोध बढ़ता देख लंदन पुलिस ने केस दर्ज कर लिया और तीनों के सोशल मीडिया अकाउंट को बंद कर दिया गया। पुलिस का कहना है कि इस मामले में तीनों को नफरत फैलाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

जॉर्ज फ्लॉयड की मौत से विरोध की आग में चल रहा अमेरिका

अश्वेत अमेरिकी जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस हिरासत में मौत के बाद से अमेरिका जल रहा है। कई बड़े शहरों से लूटपाट, दंगे और आगजनी की खबरें आ रही हैं। हिंसा की लपटें राजधानी वॉशिंगटन डीसी और वाइट हाउस तक पहुंच चुकी हैं। हालात नियंत्रण से बाहर निकलते देख अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिकी मिलिट्री को उतारने का फैसला किया है।

यह है जॉर्ज फ्लॉयड की मौत का पूरा मामला

दरअसल बीते 25 मई को 20 डॉलर का नकली नोट इस्तेमाल करने के आरोप में अश्वेत अमेरिकन जॉर्ज फ्लॉयड को पुलिस ने हिरासत में लिया था। घटना के कई वीडियो सामने आए इसमें एक पुलिसकर्मी 7 मिनट तक जॉर्ज के गले पर घुटना रखे दिखाई दिया। जॉर्ज यह कहते-कहते बेहोश हो गए कि ‘मैं सांस नहीं ले पा रहा हूं’ लेकिन आरोपी पुलिस ऑफिसर डेरेक शॉविन को तरस नहीं आया। जॉर्ज की मौत के बाद लोग पुलिस के इस रंगभेदी अत्याचार के खिलाफ सड़कों पर हैं। हालांकि विरोध प्रदर्शन की आड़ में कई जगह हिंसा, आगजनी, दुकानों में तोड़फोड़ और लूटपाट की घटनाएं भी सामने आई हैं।

 
 

Related posts

Top