अगस्त तक 5000 भारतीयों पर होगा कोरोना वैक्सीन का ट्रायल, इंडिया में दिसंबर तक 4 मिलियन खुराक होगी तैयार

 

लंदनः ब्रिटेन के ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के टीके में कोई गंभीर साइड इफेक्ट और दो खुराक प्राप्त करने वाले लोगों में सबसे मजबूत प्रतिक्रिया के साथ एंटीबॉडी और टी-सेल प्रतिरक्षा को लेकर सकारात्मक प्रतिक्रिया दी है। द लांसलर मेडिकल जर्नल में सोमवार को प्रकाशित परीक्षण के परिणामों के अनुसार ऑक्सफोर्ड और उसके एस्ट्राजेनेका द्वारा वैक्सीन के निर्माण के लिए दुनिया की सबसे बड़ा वैक्सीन निर्माता Serum Institute Of India (SII) को चुना है।

PunjabKesari

SII के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अदार पूनावाला ने कहा कि कोविशिल्ड पहली कोविड -19 वैक्सीन है, जिसे यूके और भारत दोनों में परीक्षण सफल होने पर उन्हें लॉन्च किए जाने की उम्मीद है। पूनावाला ने कहा कि कोविड -19 वैक्सीन उम्मीदवार के ट्रायल की शुरुआत अगस्त के अंत तक 5,000 भारतीय स्वयंसेवकों से की जाएगी और आवश्यक अनुमति मिलने के बाद अगले साल जून तक वैक्सीन को लॉन्च कर दिया जाएगा। अदार पूनावाला ने समाचार चैनल इंडिया टुडे को दिए एक साक्षात्कार में कहा, हम अगस्त के मध्य-अगस्त में बड़े पैमाने पर विनिर्माण करेंगे। इस साल के अंत तक, हमें 3 से 4 मिलियन खुराक का उत्पादन करने में सक्षम है।

PunjabKesari

पूनावाला ने कहा कि कोविड -19 वैक्सीन उम्मीदवार के ट्रायल की शुरुआत अगस्त के अंत तक 5,000 भारतीय स्वयंसेवकों से की जाएगी और आवश्यक अनुमति मिलने के बाद अगले साल जून तक वैक्सीन को लॉन्च कर दिया जाएगा। अदार पूनावाला ने समाचार चैनल इंडिया टुडे को दिए एक साक्षात्कार में कहा, हम अगस्त के मध्य-अगस्त में बड़े पैमाने पर विनिर्माण करेंगे। इस साल के अंत तक, हमें 3 से 4 मिलियन खुराक का उत्पादन करने में सक्षम है।

PunjabKesari

 
 

Related posts

Top