कश्मीर में एक और आतंकी साजिश का अलर्ट, अमित शाह ने बुलाई बैठक

कश्मीर में एक और आतंकी साजिश का अलर्ट, अमित शाह ने बुलाई बैठक
  • देश के केंद्र शासित राज्य जम्मू-कश्मीर में एक और आतंकी सजिश का अलर्ट जारी हुआ है. जिसको लेकर कश्मीर में संभावित खतरे वाले स्थानों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है

नई दिल्ली: देश के केंद्र शासित राज्य जम्मू-कश्मीर में एक और आतंकी सजिश का अलर्ट जारी हुआ है. जिसको लेकर कश्मीर में संभावित खतरे वाले स्थानों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है. सूत्रों के अनुसार इस आतंकी पावर प्रोजेक्ट और बांध का निशाना बना सकते हैं. खबर मिली है कि अनंतनाग का एयर स्ट्रिप आतंकियों के निशाने पर हैं. वहीं, टीआरएफ के निशाने पर जम्मू-कश्मीर के स्थानीय हिंदू बताए जा रहे हैं. जबकि यूएलएफ को टारगेट किलिंग का जिम्मा सौंपा गया है. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने देश के आतंरिक सुरक्षा को लेकर अधिकारियों की बैठक बुलाई है. बैठक में सभी राज्यों के डीजीपी और आईजी मौजूद रहेंगे. इसके साथ ही केंद्रीय सुरक्षाबलों के डीजी भी अमित शाह की बैठक में शामिल होंगे. बताया जा रहा है कि इस महत्वपूर्ण बैठक में कश्मीर के हालातों पर चर्चा पर हो सकती है.

यही नहीं केंद्रीय गृह मंत्रालय ने सीआरपीएफ के डीजी कुलदीप सिंह को सुरक्षा इंतजामों का जायजा लेने कश्मीर भेजा है. आपको बता दें कि जम्मू कश्मीर घाटी में भले ही आतंकियों की गोलियां चल रही हों, लेकिन बिहार के लोगों की चिंताएं बढ़ गई है. पिछले एक पखवारे में जम्मू कश्मीर में बिहार के चार लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई. आतंकियों के इस कायरतापूर्ण घटना को लेकर बिहार के उन लोगों की चिंताएं बढ़ गई हैं, जिनके परिजन दो जून की रोटी की जुगाड में जम्मू कश्मीर गए हैं.

जम्मू कश्मीर में 5 अक्टूबर को भागलपुर के वीरेंद्र पासवान की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। शनिवार को बांका जिले के बाराहाट प्रखंड के रहने वाले अरविंद कुमार साह आतंकियों का निशाना बन गए. रविवार को बिहार के सीमांचल के अररिया जिले के रहने वाले राजा ऋषिदेव और योगेंद्र ऋषिदेव की आतंकियों ने हत्या कर दी. अररिया जिले के बौंसी थाना क्षेत्र के डाहटोला निवासी राजा ऋषिदेव की मौत की खबर सुनकर गांव में मातम पसर गया है। राजा रोजी रोजगार के लिए छह महीने पहले ही जम्मू कश्मीर गया था. उसके परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है.


पत्रकार अप्लाई करे Apply