ब्लड शुगर टेस्ट स्ट्रिप सस्ते में प्राप्त करे
Dr. Morepen BG-03 Blood Glucose Test Strips, 50 Strips (Black/White)

जीत के दावों के बीच ज्योतिरादित्य सिंधिया के गढ़ में मध्य प्रदेश भाजपा को हार का डर

 
Madhya Pradesh by polls

भोपाल।  मध्य प्रदेश की 28 सीटों पर हुए उपचुनाव के बाद भाजपा की कोर टीम ने नतीजों को लेकर पार्टी स्तर पर विश्लेषण किया है। इसमें भाजपा आश्वस्त है कि पार्टी की जीत पक्की है। हालांकि विश्लेषण में चौंकाने वाला तथ्य भी सामने आया है कि भाजपा को ग्वालियर-चंबल संभाग में हार का डर है। यह राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया के प्रभाव वाला क्षेत्र है। पार्टी के आंतरिक विश्लेषण को अंतिम नहीं माना जा सकता, लेकिन राजनीतिक जानकारों का कहना है कि सिंधिया के प्रभाव वाले क्षेत्र में पार्टी को नुकसान की आशंका यदि सही साबित हुई तो मध्य प्रदेश में भाजपा की राजनीति का अलग दौर शुरू होगा।

सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस से भाजपा में आए जिन सिंधिया समर्थकों को भाजपा ने प्रत्याशी बनाया, उनकी पार्टी में स्वीकार्यता को लेकर शुरू से ही असमंजस था। पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं के सामने एक हिचक यह भी थी कि भाजपा में आने से पहले दशकों तक जिन नेताओं को भला-बुरा कहा गया, अब उनके लिए जनता से वोट किस तरह मांगें?

हालांकि भाजपा के मुख्य प्रवक्ता डॉ. दीपक विजयवर्गीय का दावा है कि पार्टी के आंतरिक विश्लेषण में हम सभी 28 सीटों पर जीत रहे हैं। यह निश्चित है कि शिवराज सिंह चौहान जी के नेतृत्व में आगे भी पार्टी जनता के हित में काम करती रहेगी।

 मध्य प्रदेश में नहीं होगा पुनर्मतदान

मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ ने ग्वालियर क्षेत्र के सुमावली और मेहगांव के उन मतदान केंद्रों पर फिर मतदान की मांग उठाई थी, जहां मंगलवार को हुए मतदान के दौरान हिंसा हुई थी। हालांकि पीठासीन अधिकारी, केंद्रीय पर्यवेक्षक को ऐसा कोई आधार नहीं मिला, जिसके कारण पुनर्मतदान कराने का निर्णय लिया जाए। अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी अरुण कुमार तोमर ने बताया कि पीठासीन अधिकारी प्रतिदिन स्ट्रांग रूम का दौरा करके रिपोर्ट चुनाव आयोग को देंगे। साथ ही कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक और रिटर्निग ऑफिसर प्रतिदिन स्ट्रांग रूम का निरीक्षण करेंगे। रिटर्निग ऑफिसर निर्वाचन कार्यालय को रिपोर्ट भेजेंगे। स्ट्रांग रूम की सुरक्षा के लिए केंद्रीय सुरक्षा बल तैनात किया गया है। इधर, बुधवार को अंतिम गणना के बाद मतदान का कुल आंकड़ा 70.27 प्रतिशत पर पहुंच गया।

कांग्रेस बूथ-वार करवा रही विश्लेषण

मध्य प्रदेश कांग्रेस भी विश्लेषण में जुट गई है। पार्टी ने सभी बूथ कमेटियों से मतदान केंद्रवार वोटिंग की जानकारी मंगवाई है।

 
 

Related posts

Top