RLD के बाद अब AAP भी मिला सकती है सपा से हाथ, अखिलेश-संजय सिंह की हुई मुलाकात

RLD के बाद अब AAP भी मिला सकती है सपा से हाथ, अखिलेश-संजय सिंह की हुई मुलाकात
  • अखिलेश यादव कई मौकों पर इस बात को कह चुके हैं कि वो अगला चुनाव छोटी-छोटी पार्टियों के साथ मिलकर लड़ेंगे. इससे पहले उन्होंने आरएलडी प्रमुख जयंत चौधरी से मुलाकात की. इस बैठक में सीटों के बंटवारे को लेकर सहमति बन चुकी है.

लखनऊ: सपा और आरएलडी (RLD) के बीच गठबंधन लगभग तय होने के बाद उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले एक और गठबंधन हो सकता है. यूपी में अपनी संभावना तलाश रही आम आदमी पार्टी (AAP) के सांसद संजय सिंह ने लखनऊ में सपा प्रमुख अखिलेश यादव से मुलाकात की है. दोनों के बीच करीब एक घंटे तक बातचीत हुई. दोनों के बीच मुलाकात के बाद अब इनके गठबंधन को लेकर चर्चा शुरू हो गई है.

यह चर्चा इसलिए भी हो रही है कि अखिलेश यादव कई मौकों पर इस बात को कह चुके हैं कि वो अगला चुनाव छोटी-छोटी पार्टियों के साथ मिलकर लड़ेंगे. इससे पहले उन्होंने आरएलडी प्रमुख जयंत चौधरी से मुलाकात की. इस बैठक में सीटों के बंटवारे को लेकर सहमति बन चुकी है. जल्द ही गठबंधन को ऐलान किया जा सकता है. जानकारी के मुताबिक अखिलेश यादव आरएलडी को 36 सीटें देने के लिए राजी हो गए हैं. इनमें 30 सीटों पर आरएलडी के प्रत्याशी चुनाव लड़ेंगे जबकि 6 सीटों पर आरएलडी के निशान पर सपा के उम्मीदवार चुनाव लड़ेंगे.  आरएलडी प्रमुख जयंत चौधरी ने सपा से 45 सीटें मांगी थी जिनमें 36 सीटों पर सहमति बन गई है.

आरएलडी 50 सीटें मांग रही थी जबकि सपा 30 से 32 सीटें देने को तैयार थी. सूत्रों की मानें तो जयंत और अखिलेश के बीच एक और दौर की बातचीत होगी. इसके बाद दोनों नेता प्रेस कॉन्फ्रेंस कर गठबंधन का ऐलान कर सकते हैं. मुलाकात की तस्वीर ट्वीट करते हुए जयंत ने लिखा है- बढ़ते कदम. सपा सुप्रीमो से मुलाकात के बाद जयंत दिल्ली लौट गए हैं. सूत्रों के मुताबिक जयंत ने डिप्टी सीएम का पद आरएलडी को दिए जाने की मांग अखिलेश के सामने रखी है.


पत्रकार अप्लाई करे Apply