26/11 मुंबई हमला : रिटायर्ड एसीपी का आरोप, परमबीर सिंह ने आतंकी कसाब से जब्‍त मोबाइल को किया था नष्‍ट

26/11 मुंबई हमला : रिटायर्ड एसीपी का आरोप, परमबीर सिंह ने आतंकी कसाब से जब्‍त मोबाइल को किया था नष्‍ट
  • सेवानिवृत्त एसीपी शमशेर खान पठान (Shamsher K Pathan) ने जुलाई में लिखे एक पत्र के माध्‍यम से मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्‍त परमबीर सिंह पर आरोप लगाया है कि आतंकी कसाब से एक मोबाइल जब्‍त किया गया था जिसे परमबीर सिंह ने नष्‍ट कर दिया था।

मुंबई। मुंबई में 26 नवंबर (26/11) 2008 को हुए आतंकी हमले में मुंबई के ताज होटल, छत्रपति शिवाजी टर्मिनस समेत कई स्‍थानों पर आतंकवादियों ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसायी थीं। जिसमें 160 से अधिक लोग शहीद हो गए थे और पूरा देश ही नहीं बल्कि दुनिया इस घटना से सहम गई थी। दिल दहला देने वाली इस घटना को आज 13 साल पूरे हो चुके हैं। इस हमले में एकमात्र पाकिस्‍तानी आतंकवादी अजमल आमिर कसाब ( Ajmal Kasab) को जिंदा पकड़ा गया था कसाब के पास से एक मोबाइल बरामद हुआ था। इस मोबाइल को अहम सबूत के तौर पर जब्‍त किया गया था लेकिन मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्‍त परमबीर सिंह (Parambir Singh) ने उसे नष्‍ट कर दिया था। इस मोबाइल को कभी भी जांच के लिए पेश नहीं किया गया।

सेवानिवृत्त एसीपी शमशेर खान पठान का आरोप

इस संबंध में सेवानिवृत्त एसीपी शमशेर खान पठान ने जुलाई में एक पत्र लिखा था जिसमें परमबीर सिंह को सबूतों को नष्‍ट करने के आरोप में एनआइए द्वारा गिरफ्तार करने की मांग की गई थी। पत्र में लिखा है कि उसने इस सबूत को आईएसआईएस को बेच दिया होगा या जबरन वसूली के लिए जानकारी का इस्तेमाल किया होगा।

jagran

पुलिस निरीक्षक माली ने परमबीर सिंह को दी थी ये जानकारी

रिटायर्ड शमशेर खान पठान ने अपने पत्र में लिखा है कि मुंबई के डीबी मार्ग थाने के तत्कालीन वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक एनआर माली ने पूर्व पुलिस आयुक्तपरमबीर सिंह को इस बारे में जानकारी दी थी कि आतंकी कसाब के पास से माली ने एक मोबाइल जब्‍त किया है और इसे कांस्‍टेबल कांबले को दे दिया गया है।

 


पत्रकार अप्लाई करे Apply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *