भाजपा सरकार में पलायन कराने वाले खुद कर रहे हैं पलायन: अमित शाह

भाजपा सरकार में पलायन कराने वाले खुद कर रहे हैं पलायन: अमित शाह

सहारनपुर। केंद्रीय गृह व सहकारिता मंत्री अमित शाह एवं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गांव पुवांरका में बनने वाले मां शाकुम्भरी देवी राजकीय विश्वविद्यालय का शिलान्यास किया। उन्होंने केंद्र व उत्तर प्रदेश सरकारों द्वारा जनहित में किए गए कार्यों का बखान करते हुए विपक्षी दलों पर जमकर प्रहार किए। पुवांरका में 50.3 एकड़ में बनने वाली मां शाकम्भरी देवी राजकीय विश्वविद्यालय का शिलान्यास करने के बाद आयोजित जनसभा को सम्बोधित करते हुए गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि पूर्व की सरकारों में सहारनपुर से पलायन होता था लेकिन भाजपा सरकार में पलायन कराने वाले खुद पलायन कर रहे हैं। उन्होंने दावा किया कि उत्तर प्रदेश में अब माफियाराज खत्म हो चुका है। उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि अखिलेश यादव कहां से चश्मा लाए हैं जो उन्हें विकास काम दिखाई नहीं पड़ते। उन्होंने कहा कि जब अखिलेश यादव मुख्यमंत्री थे तब तंज कसते हुए कहते थे कि मंदिर बनाएंगे लेकिन तारीख नहीं बताएंगे।

आज मोदी-योगी के प्रयास से अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण हो रहा है। उन्होंने कहा कि हमने कहा था कि गन्ना किसानों को समय पर भुगतान किया जाएगा। आज यूपी में भाजपा सरकार ने साढ़े चार वर्षों में किसानों के गन्ना मूल्य का 90 प्रतिशत भुगतान कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि यह सौभाग्य की बात है कि मां शाकम्भरी देवी की धरती पर विश्वविद्यालय का निर्माण कार्य होने जा रहा है। प्रदेश में शिक्षा के क्षेत्र में जो महायज्ञ चल रहा है

उसमें आज एक कड़ी और जुड़ रही है। रैली को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जहां परिवारवाद, जातिवाद और वंशवाद होगा वहां विकास नहीं होगा। उन्होंने कहा कि हस्तकला व औद्योगिक गतिविधि के लिए प्रसिद्ध सहारनपुर की दशकों पुरानी मांग आज पूरी हो गई है। अब सहारनपुर का भी अपना विश्वविद्यालय होगा। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार के पास विकास का एजेंडा नहीं था। उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार द्वारा सहारनपुर में 92 करोड़ की लागत से 50.3 एकड़ में मां शाकम्भरी देवी राज्य विश्वविद्यालय का निर्माण किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि मां शाकुम्भरी देवी के नाम पर विश्वविद्यालय की स्थापना होने से हमारी आस्था के साथ-साथ शिक्षा के क्षेत्र में भी नई पहचान मिलेगी। केंद्रीय शिक्षा कौशल विकास व उद्यमिता मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि अब यूपी में विश्वविद्यालय और महाविद्यालय खोले जा रहे हैं। साथ ही आवागमन के लिए अच्छे रास्तों का भी निर्माण हो रहा है। किसानों के खाते में लगातार पैसा आ रहा है। सरकार ने प्रदेश में कानून का राज स्थापित किया है। इसी को सुशासन कहते हैं। उन्होंने कहा कि सहारनपुर में राज्य विश्वविद्यालय की स्थापना के साथ यहां के विद्यार्थियों के लिए उच्च शिक्षा के द्वार खुलेंगे। इसके साथ ही 1000 कालेजों के बोझ से दबी चौ. चरणसिंह यूनिवर्सिटी को भी राहत मिलेगी।

उन्होंने कहा कि चौ. चरणसिंह विश्वविद्यालय के 27 फीसदी कालेज, 35 फीसदी विद्यार्थी यहां स्थानांतरित किए जाएंगे। उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कहा कि पिछली सरकारों में शाम होते ही माताएं व बहनें घरों में चली जाती थी क्योंकि कहीं उनके सम्मान को ठेस न पहुंच जाए। लोगों के घरों के बाहर लिखा रहता था कि यह मकान बिकाऊ है लेकिन योगी सरकार में आज प्रदेश का माहौल बदल गया है। उन्होंने कहा कि मां शाकुम्भरी देवी विश्वविद्यालय का शिलान्यास हो रहा है। यह प्रदेश में शिक्षा को नया आयाम देगा। राजा महेंद्र प्रताप सिंह व राजा सुहेल देव के नाम पर भी विश्वविद्यालय का उपहार प्रदेश की जनता मिला है।

रैली को केंद्रीय पशुपालन मंत्री डा. संजीव बालियान, उ.प्र. के कृषि मंत्री सूर्यप्रताप शाही, गन्ना विकास व चीनी मिल मंत्री सुरेश राणा, पंचायती राज मंत्री भूपेंद्र ंिसह चौधरी, आयुष राज्यमंत्री डा. धर्मसिंह सैनी, व्यवसायिक शिक्षा राज्यमंत्री कपिल देव अग्रवाल, उच्च शिक्षा राज्यमंत्री नीलिमा कटियार, जल शक्ति मंत्री दिनेश खटीक, सांसद प्रदीप चौधरी, पूर्व सांसद राघव लखनपाल शर्मा, विधायक देवेंद्र निम, विधायक कुंवर बृजेश सिंह, विधायक कीरत सिंह, विधान परिषद सदस्य श्रीचंद शर्मा, पूर्व राजीव गुम्बर, भाजपा जिलाध्यक्ष डा. महेंद्र सैनी, महानगर अध्यक्ष राकेश जैन, जिला पंचायत चेयरमैन मांगेराम चौधरी, महापौर संजीव वालिया ने भी सम्बोधित किया। रैली में भारी संख्या में जनसमूह मौजूद रहा।


पत्रकार अप्लाई करे Apply