क्वाड समिट से पहले अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और जापान के साथ द्विपक्षीय बैठक करेंगे PM मोदी

क्वाड समिट से पहले अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और जापान के साथ द्विपक्षीय बैठक करेंगे PM मोदी
  • क्वाड समिट में हिस्सा लेने से पहले पीएम मोदी और जो बाइडेन के बीच द्विपक्षीय वार्ता होगी. इसके साथ ही जापान और ऑस्ट्रेलिया के साथ भी द्विपक्षीय वार्ता होगी. पीएम मोदी 23 सितंबर को जापान और ऑस्ट्रेलिया के साथ अलग-अलग द्विपक्षीय बैठक करेंगे. 

नई दिल्ली: व्हाइट हाउस में 24 सितंबर को क्वाड समूह देशों के नेताओं की पहली व्यक्तिगत मुलाकात होने वाली है. इस दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, ऑस्ट्रेलियाई पीएम स्कॉट मॉरिसन और जापान के योशीहिदे सुगा की मेजबानी करेंगे. विदेश मंत्रालय के मुताबिक इस समिट में हिस्सा लेने से पहले पीएम मोदी और जो बाइडेन के बीच द्विपक्षीय वार्ता होगी. इसके साथ ही जापान और ऑस्ट्रेलिया के साथ भी द्विपक्षीय वार्ता होगी. पीएम मोदी 23 सितंबर को जापान और ऑस्ट्रेलिया के साथ अलग-अलग द्विपक्षीय बैठक करेंगे. भारत की अपने सभी तीन क्वाड सहयोगियों के साथ टू-प्लस-टू वार्ता हो चुकी है.

इसी माह भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच नई दिल्ली में 11 सितंबर को पहली टू-प्लस-टू वार्ता हुई थी. विदेश मंत्री एस. जयशंकर 20 सितंबर को ही अमेरिका रवाना हो रहे हैं. वह यहां संयुक्त राष्ट्र महासभा में हिस्सा लेने और साथ ही में क्वाड समिट से पहले जमीनी काम पूरा करने जा रहे हैं. हालांकि, क्वाड देशों के विदेश मंत्रियों के बीच कोई बैठक अभी तक प्रस्तावित नहीं है.

जापानी प्रधानमंत्री योशीहिदे सुगा और ऑस्ट्रेलियाई प्रधान मंत्री स्कॉट मॉरिसन के साथ, पीएम मोदी साझा उद्देश्य को आगे बढ़ाएं. भारत के तीनों क्वाड पार्टनर्स के साथ टू प्लस टू डायलॉग हैं, पहला भारत-ऑस्ट्रेलियाई संवाद 11 सितंबर को नई दिल्ली में आयोजित किया जा चुका है. जिस तरह पीएम मोदी तीनों क्वाड पार्टनर्स के साथ द्विपक्षीय बैठक करेंगे, उसी तरह अन्य नेताओं के भी क्वाड शिखर सम्मेलन में शामिल होने से पहले द्विपक्षीय बैठकें करने की उम्मीद है.

क्वाड शिखर सम्मेलन तालिबान शासित अफगानिस्तान की स्थिति पर चर्चा हो सकती है. इसमें दोहा समझौते को लेकर बातचीत की जा सकती है. तालिबान सरकार भी 30 अगस्त, 2021 को पारित यूएनएससी प्रस्ताव 2593 के विपरीत काम कर रही है. क्वाड लीडर्स कोरोनावायरस के प्रसार पर भी विचार-विमर्श करेंगे, जो चीन के वुहान में उत्पन्न हुआ है. दुनिया के लिए टीकों के उत्पादन और उपलब्धता की समीक्षा करेगा. 13 सितंबर को अमेरिकी जलवायु परिवर्तन दूत जॉन केरी की मेजबानी करने वाले विदेश मंत्री जयशंकर के साथ जलवायु परिवर्तन द्विपक्षीय और क्वाड एजेंडा पर भी होगा.


पत्रकार अप्लाई करे Apply