यूपी : औद्योगिक विकास प्राधिकरणों में 572 पदों पर जल्द होगी भर्ती

यूपी : औद्योगिक विकास प्राधिकरणों में 572 पदों पर जल्द होगी भर्ती

लखनऊ: औद्योगिक विकास प्राधिकरणों में 572 पदों पर भर्ती की तैयारी है। यह भर्तियां नोएडा, ग्रेटर नोएडा, यीडा व यूपीसीडा में होगी। इसके जरिए इन प्राधिकरणों में कार्मिकों की कमी दूर होगी और इससे रोजगार सृजन व निवेश के काम में तेजी आएगी। निवेशकों की विभिन्न परियोजनाओं को आगे बढ़ाने के लिए प्राधिकरणों को विभिन्न स्तर पर कार्मिकों की कमी का सामना करना पड़ रहा है। काम को तेजी से आगे बढ़ाने के लिए इंजीनियर, प्रबंधक, मानचित्रकार, लेखपाल, तहसीलदार समेत कई कार्मिकों की जरूरत है। कार्मिकों की कमी के कारण जमीन अधिग्रहण से निवेश परियोजनाएं लगाने तक का काम प्रभावित होता है। इसलिए औद्योगिक विकास विभाग ने भर्ती का अभियान शुरू कराया है।

इसके तहत सीधी भर्ती के 5400 रुपये ग्रेड पे के 94 पदों का अधियाचन लोक सेवा आयोग प्रयागराज को भेजा गया है। इसी तरह सीधी भर्ती के अराजपत्रित 478 पदों की भर्ती के लिए प्रस्ताव अधीनस्थ सेवा चयन आयोग को भेजा गया है। यह पद 4200 रुपये के ग्रेड पे के तहत आते हैं। इसके अलावा वित्त एवं लेखाधिकारी संवर्ग की ज्येष्ठता  सूची को अंतिम रूप दिया जा रहा है। यही नहीं, वास्तुविद व नियोजन संवर्ग व सहायक प्रबंधक सिविल की ज्येष्ठता सूची को भी अंतिम रूप से जारी करने का काम चल रहा है।

समूह घ के कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति उम्र 58 से बढ़कर 60 साल
प्राधिकरणों में समूह ‘घ’ के कार्मिकों व वाहन चालकों की सेवानिवृत्ति आयु अब 58 के बजाय 60 साल होगी। इससे संबंधित प्रस्ताव तैयार हो गया है। जल्द इसे कैबिनेट से पास कराया जाएगा। समूह घ में अनुसेवक कर्मचारी आते हैं।

समूह ‘ग’ के कर्मचारी सेवानिवृत्ति के बाद भी संविदा पर रखे जा सकेंगे
सेवानिवृत्त कार्मिकों को रखने की व्यवस्था में समूह ग के पदों को भी शामिल किया जाएगा। अब सेवानिवृत्त कार्मिक एक बार में छह महीने के बजाए एक साल तक रखे जा सकेंगे।

भर्तियों से फायदे
– निजी निवेश औद्योगिक परियोजनाओं से जुड़ा विभागीय काम जल्द होगा
– जमीन पर निवेश प्रोजेक्ट लगने में देरी नहीं होगी, रोजगार के मौके जल्द मिलेंगे
– तय समय में पूरा होने पर परियोजना की लागत नहीं बढ़ेगी


पत्रकार अप्लाई करे Apply