Shobit University Gangoh
 
 

JNU में BBC की बैन डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग पर चले पत्थर, इंटरनेट-बत्ती गुल

JNU में BBC की बैन डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग पर चले पत्थर, इंटरनेट-बत्ती गुल

नई दिल्ली: जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) एक बार फिर अखाड़ा का केंद्र बन गया है. इस बार बीबीसी की बैन डॉक्यूमेंट्री ‘India: The Modi Question’ की स्क्रीनिंग को लेकर जेएनयू कैंपस में बवाल हुआ. छात्रों के दो गुट आमने-सामने आ गए. कैंपस में डॉक्यूमेंट्री देख रहे विद्यार्थियों पर अचानक से पथराव कर दिया गया. साथ ही कैंपस का इंटरनेट बंद करने के साथ बत्ती गुल कर दी गई. हालांकि, बाद में बवाल के बाद जेएनयू कैंपस की बिजली बहाल कर दी गई थी.

जेएनयू प्रशासन ने कुछ दिन पहले कैंपस में बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री नहीं दिखने का निर्णय लिया था, लेकिन बाद में वामपंथी छात्रों ने डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग करने का फैसला किया. इसे लेकर कैंपस में मंगलवार की रात को बवाल हो गया. इसके बाद छात्रों ने मोबाइल फोन और लैपटॉप पर टॉर्च की रोशनी में डॉक्यूमेंट्री देखी. इस बीच जेएनयू छात्र संघ की अध्यक्ष आइशी घोष ने आरोप लगाया है कि बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री देखते वक्त एबीवीपी के स्टूडेंट्स ने उन लोगों पर पथराव किया, लेकिन प्रशासन ने कोई कदम नहीं उठाया. हमने डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग पूरी कर ली है. इसकी सूचना मिलते ही आनन-फानन में पुलिस कैंपस पहुंची.

हालांकि, जेएनयू में अभी शांति है, अभी किसी को अंदर जाने की इजाजत नहीं है. JNUSU संगठन के पदाधिकारी बुधवार को करीब 11 बजे के बाद अपनी शिकायत JNU प्रशासन से करेंगे. बताया जा रहा है कि इस मामले में करीब 25 छात्रों के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है. विवादित डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग के लिए JNU प्रशासन ने मना कर दिया था, जिसके बाद लेफ्ट के तमाम छात्रों ने स्क्रीनिंग की और उस समय पत्थरबाज़ी हुई.

कैंपस में अभी किसी भी तरह की हलचल नहीं है, लेकिन माना जा रहा है कि 10 बजे के बाद छात्र कैंपस के अंदर एकत्रित होंगे. पुलिस का कहना है कि जेएनयू मामले में शिकायत मिली है और हम इस मामले की छानबीन कर रहे हैं.


पत्रकार अप्लाई करे Apply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *