ब्लड शुगर टेस्ट स्ट्रिप सस्ते में प्राप्त करे
Dr. Morepen BG-03 Blood Glucose Test Strips, 50 Strips (Black/White)

मैदान से बड़े खिलाड़ी निकलें तभी इसे बनाना होगा सार्थक : मनीष सिसोदिया

 
Delhi Politics

नई दिल्ली । उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा है कि दिल्ली सरकार ने खिलाडिय़ों के लिए तमाम सुविधाओं का इंतजाम कर दिया है। अब खिलाड़ियों और उनके कोच की जिम्मेदारी है कि वे अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में मेडल लाकर अपने माता-पिता के साथ ही राज्य सरकार की उम्मीदों को पूरा करें। सिसोदिया शनिवार को सर्वोदय बाल विद्यालय, अशोक नगर में विश्वस्तरीय एस्ट्रोटर्फ हॉकी मैदान का उद्घाटन कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने होनहार खिलाड़ियों को हर संभव मदद देने का निर्देश दिया है, ताकि सुविधाओं के अभाव में कोई प्रतिभा पीछे न रह जाए। उन्होंने खिलाड़ियों का उत्साह बढ़ाते हुए कहा कि वह मन लगाकर खेलें, उन्हें जितने पैसों की जरूरत होगी, उतना खर्च करने के लिए दिल्ली सरकार उनके साथ खड़ी है। खिलाड़ी में यदि प्रतिभा है तो उसे मंच मुहैया कराने की जिम्मेदारी दिल्ली सरकार की है। सिसोदिया ने कहा कि विश्वप्रसिद्ध हॉकी खिलाड़ी ध्यानचंद और धनराज पिल्लई भी ऐसे ही मैदानों से निकले हैं। इस मौके पर ओलंपिक पदक विजेता खिलाड़ी सुशील कुमार भी मौजूद थे।

5.78 करोड़ रुपये आई है लागत 

सिसोदिया ने कहा कि विश्वस्तरीय एस्ट्रोटर्फ हॉकी मैदान को बनाने में करदाताओं के 5.78 करोड़ रुपये लगे हैं। इस मैदान में खिलाड़ियों को खेलने का अवसर मिले, तो यह पैसा वसूल हो जाएगा। अगर यहां से देश के लिए अच्छे खिलाड़ी नहीं निकले, तो ये पैसा बेकार जाएगा। स्कूल और खेल अधिकारियों की जिम्मेदारी है कि खिलाड़ियों को इस मैदान के उपयोग की पूरी सुविधा मिले। इस मैदान को सरकारी नियमों का शिकार न बनने दें। खिलाडिय़ों की सुविधा और जरूरत के अनुसार नियम बनाए जाएं। किसी नियम में बदलाव की जरूरत हो तो सरकार उसके लिए तैयार है।

तैयार हो रहे हैं चार हॉकी मैदान 

सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली में वह ऐसे ही चार विश्वस्तरीय एस्ट्रोटर्फ हॉकी मैदान बना रहे हैं। यह तीसरा मैदान है। घुम्मनहेड़ा और झिलमिल में भी ऐसे मैदान बने हैं। चार सौ मीटर के चार रेसिंग ट्रैक और विश्वस्तरीय स्वीमिंग पूल भी बनाए गए हैं। इन सुविधाओं के कारण दिल्ली के सरकारी स्कूलों का खेलों में प्रदर्शन बेहतर हुआ है और मैडल लाने का ग्राफ बढ़ा है।

खिलाड़ियों को देते हैं आर्थिक मदद 

सिसोदिया ने कहा कि दूसरी सरकारें जीतकर आने वाले खिलाड़ियों को सुविधाएं देती हैं, जबकि उनकी सरकार होनहार खिलाड़ियों की मदद के लिए शानदार योजनाएं चला रही है। इसमें साढ़े तीन लाख से लेकर 16 लाख रुपये तक की सालाना राशि दी जाती है। सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली के खिलाड़ी जब किसी प्रतियोगिता में मैडल लेकर आते हैं तो अन्य सभी राज्यों से ज्यादा इनाम दिल्ली सरकार देती है।

 
 

Related posts

delhi politics

गणतंत्र दिवस समारोह में बाधा डाल सकते हैं आंदोलनकारी किसान, खुफिया विभाग से मिला इनपुट

delhi politics

LIVE Kisan Andolan: 21वें दिन पहुंचा किसानों का आंदोलन, नोएडा-दिल्ली को जोड़ने वाला चिल्ला बॉर्डर किया बंद

Manish Sisodia

दिल्ली में मजदूरों को केजरीवाल सरकार ने दी खुशखबरी, बढ़ाया वेतन और महंगाई भत्ता

Top