GST के 5 साल पूरे होने पर कांग्रेस ने इसे बताया त्रुटिपूर्ण, सरकार से की ये मांग

GST के 5 साल पूरे होने पर कांग्रेस ने इसे बताया त्रुटिपूर्ण, सरकार से की ये मांग
  • चंडीगढ़ में हुई जीएसटी परिषद की 47वीं बैठक के बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को प्रेसवार्ता की है. जीएसटी परिषद ने ऑनलाइन गेम, कैसीनो तथा घुड़दौड़ से जुड़ी सभी गतिविधियों पर 28 फीसदी जीएसटी लगाने के प्रस्ताव पर चर्चा की.

नई दिल्ली: चंडीगढ़ में हुई जीएसटी परिषद की 47वीं बैठक के बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को प्रेसवार्ता की है. जीएसटी परिषद ने ऑनलाइन गेम, कैसीनो तथा घुड़दौड़ से जुड़ी सभी गतिविधियों पर 28 फीसदी जीएसटी लगाने के प्रस्ताव पर चर्चा की. हालांकि, वित्त मंत्री ने कहा कि पेट्रो उत्पादों को जीएसटी के दायरे में लाने और क्रिप्टोकरेंसी पर कोई चर्चा नहीं हुई है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की पीसी के बाद कांग्रेस ने सरकार पर हमला बोला है.

पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम और जयराम रमेश ने कहा कि जीएसटी अपना पांचवां जन्मदिन मना रहा है, लेकिन इसमें जश्न मनाने जैसा कुछ नहीं है. जीएसटी में बहुत सारी त्रुटियां हैं, जिसके चलते देश की जनता को गंभीर आघात मिले हैं. इसमें सामानों और सेवाओं का उपयोग करने वाले आम लोगों को अनावश्यक बोझ के नीचे कुचल दिया गया है.

पूर्व वित्त मंत्री चिदंबरम ने कहा कि कांग्रेस स्पष्ट कर देना चाहती है कि आज जो जीएसटी लागू है वह यूपीए सरकार के द्वारा बनाया गया नहीं था. उन्होंने कहा कि हमारे पास आज जो जीएसटी है वह कई दरों, शर्तों और अपवादों का एक जटिल मायाजाल है, जिसके चलते करदाता पूरी तरह पिस रहा है. पी चिदंबरम ने कहा कि जीएसटी के 5 साल बाद भी दाखिल की जाने वाली रिटर्न की संख्या का कोई आधार नहीं है.

जयराम रमेश ने कहा कि यह कानून इतना दोषपूर्ण है कि सरकार को सैकड़ों कार्यकारी दिशा निर्देश जारी करने पड़ रहे हैं और यह सरकार की मजबूरी को दिखाता है. पी चिदंबरम और जयराम रमेश ने कहा कि हम सरकार से मांग करते हैं कि सरकार सभी दलों का एक संयुक्त अधिवेशन बुलाए ताकि जीएसटी के इस मुद्दे पर खुलकर बहस की जा सके.


पत्रकार अप्लाई करे Apply