ब्लड शुगर टेस्ट स्ट्रिप सस्ते में प्राप्त करे
Dr. Morepen BG-03 Blood Glucose Test Strips, 50 Strips (Black/White)

मध्य प्रदेश : कमलनाथ की टिप्पणी का विरोध, ‘मौन उपवास’ पर बैठे CM शिवराज और सिंधिया समेत कई भाजपा नेता

 
shivraj singh

इंदौर । भारतीय जनता पार्टी की नेता इमरती देवी पर पूर्व सीएम और कांग्रेस नेता कमलनाथ की अभद्र टिप्पणी के विरोध में भाजपा नेता ‘मौन उपवास’ कर रहे हैं। भोपाल में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और इंदौर में राज्यसभा सदस्य सिंधिया धरना दे रहे हैं। सोमवार को इंदौर में गांधी प्रतिमा पर सिंधिया ने कमलनाथ के विरोध में प्रदर्शन किया। इस दौरान महिला मोर्चा की कार्यकर्ता हाथों में तख्ती लेकर बैठी थीं। सिंधिया ने पहले गांधी प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किए, फिर वो मंच पर आए। मंच पर लगे तख्त के बजाए सिंधिया नीचे ही बैठ गए।

वहीं, सीएम शिवराज सिंह चौहान और भाजपा के वरिष्ठ नेता भी भोपाल के मिंटो हॉल में मौन उपवास कर रहे हैं। मौन उपवास पर बैठने से पहले मुख्यमंत्री ने कहा कि कमल नाथ अपनी गलत बात को बेशर्मी से जायज ठहरा रहे हैं। प्रदेशव्यापी मौन धरना सभी जिलों में भाजपा नेता धरने पर बैठकर कमल नाथ और कांग्रेस का विरोध कर रहे हैं। इतना ही नहीं भोपाल में महिला विरोधी कांग्रेस के पोस्टर भी लगाए गए हैं, जिन पर कांग्रेस नेताओं द्वारा विभिन्न महिला नेताओं पर की गई टिप्पणीयों का उल्लेख किया गया है। यह मौन उपवास 12 बजे तक चलेगा।

गौरतलब है कि एक सभा में कमलनाथ ने इमरती देवी को लेकर अभद्र टिप्पणी की थी। इस दौरान उन्होंने कहा था कि आप तो उसे मुझसे ज्यादा पहचानते हैं, आपको मुझे पहले ही सावधान कर देना चाहिए था, यह क्या ‘आइटम’ है।

इमरती देवी की मांग, कमलनाथ को कांग्रेस से बाहर निकालें सोनिया गांधी

इस अमर्यादित टिप्पणी के बाद इमरती देवी ने कमलनाथ को पार्टी से निकालने की मांग की है। उन्होंने कहा कि इन लोगों को मध्‍य प्रदेश में रहने का कोई हक नहीं। यहां सभी महिलाओं का सम्‍मान होता है। महिला शक्ति को घर की लक्ष्‍मी माना जाता है। आज उसने मध्‍य प्रदेश की सभी लक्ष्‍मियों (महिलाओं) को गाली दी है। उन्होंने सोनिया गांधी से मांग की कि वह कमलनाथ को कांग्रेस से बाहर निकालें।

उन्होंने आगे कहा कि यदि मेरा जन्म गरीब परिवार में हुआ तो इसमें मेरी क्या गलती है? अगर मैं दलित समुदाय से आती हूं तो उसमें मेरी क्या गलती है? यदि एक महिला के खिलाफ इस तरह के शब्द के प्रयोग होंगे तो वह आगे कैसे बढ़ेगी? वहीं भाजपा ने कमलनाथ के विवादित बयान के विरोध में मौन उपवास करने का फैसला लिया है। मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भोपाल में, प्रदेश अध्‍यक्ष वीडी शर्मा ग्वालियर में और ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया इंदौर मौन उपवास करेंगे।

 
 

Related posts

Top