हरियाणा: हफ्ते भर में पांच गुना बढ़ गए कोरोना पॉजिटिव केस, इलाज केवल पांच का हो सका

 

चंडीगढ़ (धरणी): इस समय पूरी दुनिया का संकट बन चुके कोरोना वायरस की जंग में भारत जीत की ओर बढ़ ही रहा था, लेकिन बीते 28 मार्च को सामने निजामुद्दीन मरकज मामले के बाद कोरोना वायरस की रोकथाम के नियंत्रण पूरी तरह डगमगा गया। मरकज मामला सामने आने के बाद हरियाणा में बीते एक सप्ताह के अंदर कोरोना पॉजिटिव केसों संख्या में पांच गुना बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है, जिसमें अधिकतर मरीज जमाती ही निकले हैं। अप्रैल के पहले हफ्ते में कोरोना के जितने भी मामले सामने आए उनमें अधिकांश जमाती हैं और बाहरी राज्यों के हैं।

Haryana

स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रतिदिन जारी होने वाले बुलेटिन के मुताबिक, बुधवार शाम तक हरियाणा में कोरोना पॉजिटिव केसों की संख्या 153 पहुंच चुकी हैं, जिनमें 133 मामले सक्रिय हैं और उनका इलाज किया जा रहा है। इन्हीं सात दिनों के भीतर ही 2 मरीजों की मौत भी हो चुकी है, इनमें से एक करनाल व एक अंबाला का रहने वाला था। वहीं अब तक केवल 18 मरीजों को रिकवर कर उन्हें घर भेजा गया है।

बुधवार को जारी बुलेटिन के अनुसार हरियाणा के नूंह जिले में 38, सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं। वहीं गुरुग्राम में आज ही 12, फरीदाबाद में 7, फतेहाबाद में 1, पलवल में 2, सोनीपत में 1 कुल 24 नए मामले सामने आए हैं। जिलेवार कोरोना केसों की जानकारी नीचे देखी जा सकती है।
PunjabKesari, Haryana

10 विदेशी 61 अन्य राज्यों से
हरियाणा में कुल 153 पॉजिटिव मामलों में हरियाणा के केवल 82 नागरिक ही कोरोना संक्रमित हैं, बाकि संक्रमितों में 10 विदेशी नागरिक व 61 नागरिक अन्य राज्यों से हैं। विदेशियों में श्रीलंका से 6, नेपाल, थाईलैंड, इंडोनेशिया और दक्षिण अफ्रीका से 1-1 और बाकि 61 संक्रमित 15 अलग-अलग राज्यों से हैं, जिनमें उत्तर प्रदेश से 11, हिमाचल प्रदेश से 10, तमिलनाडु से 7, पश्चिम बंगाल से 4, केरल से 5, बिहार से 8, तेलंगाना व आंध्र प्रदेश से 2-2, असम, महाराष्ट्र व जम्मू और कश्मीर से 3-3 तथा पंजाब, कर्नाटक, चेन्नई व असम से 1-1 संक्रमित हैं।

18 मरीज हुए ठीक
अभी तक 18 मरीज ठीक होकर घर पहुंच चुके हैं। इनमें सबसे ज्यादा गुरुग्राम में ही हैं। यहां से 9 मरीज, पानीपत में 4, फरीदाबाद में 2, हिसार में 1, सोनीपत में 1 और पलवल में 1 मरीज ठीक हुआ है।

कोरोना पॉजिटिव मामलों में पांच गुना बढ़ोत्तरी
बताने योग्य है कि अप्रैल महीने की की पहली तारीख को कोरोना पॉजिटिव केसों की कुल संख्या 29 थी, जिनमें से 13 रिकवर भी कर लिए गए थे और सक्रिय केसों सिर्फ 16 ही बचे थे। लेकिन हरियाणा के अलग-अलग जिलों से कोरोना मरीजों का सिलेसिलेवार तरीके के सामने आना स्वास्थ्य विभाग के आफत बन चुका है। नए केसों को संभालने के चक्कर में 1 अप्रैल से 8 अप्रैल तक केवल 5 मरीजों को रिकवर किया गया है व 2 मरीजों की मौत भी चुकी है। वहीं करनाल में एक मरीज आईसोलेशन वार्ड से भागने के चक्कर में छठीं मंजिल की खिड़की से नीचे गिर गया, जिससे उसकी मौत हो गई।

कुल 104 जमाती संक्रमित

हरियाणा में अब संक्रमित मिले जमातियों की संख्या 104 हो गई है। इनमें सबसे ज्यादा संख्या नूंह जिले की है। यहां कुल 37 जमाती संक्रमित हैं। इसके अलावा पलवल में 27, गुरुग्राम में 14, अम्बाला में 2, भिवानी में 2, कैथल में 1, फरीदाबाद में 17, चरखी दादरी 1, जींद 1, फतेहाबाद 1, सोनीपत 1 लोग संक्रमित हैं, जो मरकज से आए हुए थे। सभी धर्म प्रचार का काम कर रहे थे। जिन्हें अलग-अलग मस्जिदों व गांवों से पकड़ा गया है।

 
 

Related posts

Top