ब्लड शुगर टेस्ट स्ट्रिप सस्ते में प्राप्त करे
Dr. Morepen BG-03 Blood Glucose Test Strips, 50 Strips (Black/White)

हरियाणा विधानसभा में गूंजेगा निकिता हत्याकांड, सरकार कर सकती है बड़े Action का ऐलान

 
haryanaassemblynewa

चंडीगढ़ । हरियाणा विधानसभा के दोबारा शुरू हो रहे मानसून सत्र में बल्‍लभगढ़ का निकिता तोमर हत्याकांड भी गूंजेगा। फरीदाबाद एनआइटी के विधायक नीरज शर्मा ने इस पर ध्‍यानाकर्षण प्रस्‍ताव दिया है और इसे चर्चा के लिए मंजूर कर लिया है। माना जा रहा है कि विधानसभा में सरकार निकिता हत्‍याकांड में बड़ी कार्रवाई की घोषणा कर सकती है। चर्चा में गृहमंत्री अनिल विज शुक्रवार को विधानसभा में राज्य सरकार का पक्ष रखेंगे।

एनआइटी के विधायक नीरज शर्मा के ध्यानाकर्षण प्रस्ताव पर होगी चर्चा, सरकार कल देगी जवाब

एनआइटी कांग्रेस के विधायक नीरज शर्मा ने विधानसभा के मौजूदा सत्र में ध्यानाकर्षण प्रस्ताव लाकर सरकार से इस हत्याकांड पर जवाब मांगा है। बता दें, निकिता की बल्लभगढ़ अग्रवाल कालेज के सामने 26 अक्टूबर को हत्या कर दी गई थी। उस समय वह परीक्षा देकर कालेज से बाहर आई थी। निकिता की हत्या करने वाले तौशीफ खान और उसके एक साथी ने पहले निकिता के अपहरण का प्रयास किया। अपहरण में कामयाब नहीं हो सके तौशीफ खान ने निकिता की गोली मारकर हत्या कर दी।

पुलिस ने तौशीफ खान और उसके साथी को पुलिस ने पकड़ लिया था। इस जघन्य हत्याकांड के खिलाफ निकिता को इंसाफ दिलाने के लिए देश भर में धरने-प्रदर्शन हो रहे हैं। आम लोग इन धरने-प्रदर्शनों में मांग कर रहे हैं कि निकिता हत्याकांड के दोषियों को सख्त से सख्त और जल्द सजा दी जाए।

निकिता ने तौशीफ से नहीं किया कभी प्यार का इजहार

निकिता और तौशीफ दोनों बल्लभगढ़ के एक स्कूल निजी स्कूल में साथ पढ़ते थे। तभी से दोनों एक दूसरे को जानते थे मगर निकिता के प्रति तौशीफ का आकर्षण एकतरफा था। 2018 में भी तौशीफ ने निकिता का अपहरण कर लिया था मगर जब निकिता वापस आई तो उसने पुलिस को तौशीफ के खिलाफ ही बयान दिया था। तौशीफ के संरक्षक उसके रिश्तेदार व सहायक पुलिस आयुक्त शाकिर हुसैन ने निकिता के परिवार पर दबाव बनाकर पंचायती फैसला करा दिया था।

पुलिस के आलाधिकारियों के लिए शोध का विषय बनेगा निकिता केस

2018 में जब तौशीफ ने एकतरफा प्यार दिखाते हुए निकिता का अपहरण किया तो दर्ज केस में निकिता ने तौशीफ के खिलाफ दिया बयान अब भी फाइल में मौजूद है। तौशीफ ने अब पुलिस रिमांड के दौरान यह बताया है कि निकिता उससे शादी के लिए नहीं मान रही थी। निकिता की वजह से ही वह दक्षिण भारत के एक निजी कालेज में एमबीबीएस करने नहीं जा पाया। इसी गुस्से में उसने हथियार खरीदा था।

पुलिस के आलाधिकारी अब इस बात को लेकर चिंतित हैं कि 2018 में पंचायत के दौरान भी जांचकर्ता पुलिस अधिकारी तब तौशीफ का मनोविज्ञान क्यों नहीं समझ पाए। लड़की ने तौशीफ के खिलाफ बयान दिया था तो फिर पंचायती समझौता भी किस तरह हुआ। चूंकि मामला दो धर्मों का था इसलिए इसकी गंभीरता क्यों नहीं देखी गई। इस तरह यह मामला पुलिस जांचअधिकारियों के लिए शोध का विषय है।

लव जिहाद के खिलाफ कानून का प्रारूप तैयार कर रही है हरियाणा सरकार

हरियाणा सरकार लव जिहाद के खिलाफ कानून का प्रारूप भी तैयार कर रही है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल और गृहमंत्री अनिल विज ने इस बाबत प्रदेश के आलाधिकारियों सहित कानूनविदों से भी चर्चा की है। माना जा रहा है कि शुक्रवार विधानसभा में मुख्यमंत्री मनोहर लाल इस बाबत कोई घोषणा भी कर सकते हैं।

 
 

Related posts

Top