JK पुलिस के 108 जवानों को वीरता पदक, इस साल 1082 जांबाजों को सम्मान

JK पुलिस के 108 जवानों को वीरता पदक, इस साल 1082 जांबाजों को सम्मान
  • स्वतंत्रता दिवस 2022 के अवसर पर देश के कुल 1,082 पुलिसकर्मियों को पुलिस पदक से सम्मानित किया जा रहा है. इसमें से वीरता के लिए पुलिस पदक (पीएमजी) के लिए 347 पुलिसकर्मियों को चुना गया है, जिसमें सर्वाधिक 108 पुलिस कर्मी जम्मू-कश्मीर पुलिस से हैं…

नई दिल्ली: स्वतंत्रता दिवस 2022 के अवसर पर देश के कुल 1,082 पुलिसकर्मियों को पुलिस पदक से सम्मानित किया जा रहा है. इसमें से वीरता के लिए पुलिस पदक (पीएमजी) के लिए 347 पुलिसकर्मियों को चुना गया है, जिसमें सर्वाधिक 108 पुलिस कर्मी जम्मू-कश्मीर पुलिस से हैं. ये देश के किसी भी राज्य या केंद्र शाषित प्रदेश में सर्वाधिक है. यही नहीं, 347 वीरता पुरस्कारों में से अधिकांश, 204 कर्मचारियों को जम्मू और कश्मीर क्षेत्र में उनकी वीरता के लिए सम्मानित किया जा रहा है. इसमें जम्मू-कश्मीर पुलिस के 108 जवान हैं, तो 96 अन्य सेवाओं से हैं.

इन राज्यों में सेवारत जवानों को भी अवॉर्ड

भारत सरकार की तरफ से 80 कर्मचारियों को वामपंथी उग्रवाद प्रभावित क्षेत्रों में वीरतापूर्ण कार्रवाई के लिए और 14 कर्मचारियों को पूर्वोत्तर क्षेत्र में वीरतापूर्ण कार्रवाई के लिए सम्मानित किया जा रहा है. वीरता पुरस्कार प्राप्त करने वाले कर्मचारियों में सीआरपीएफ से 109, जम्मू-कश्मीर पुलिस से 108, बीएसएफ से 19, महाराष्ट्र से 42, छत्तीसगढ़ से 15 और बाकी केंद्र शासित प्रदेशों और सीएपीएफ से हैं.

सरकार 1082 जवानों को कर रही सम्मानित

वीरता के लिए पुलिस पदक (पीएमजी) के लिए 347 जवानों को, विशिष्ट सेवा के लिए राष्ट्रपति का पुलिस पदक 87 जवानों, अधिकारियों को और सराहनीय सेवा के लिए पुलिस पदक 648 जवानों-अधिकारियों को चुना गया है.


पत्रकार अप्लाई करे Apply