कोरोना की चैन तोड़ने के लिए सम्पूर्ण लोकडाऊन आवश्यक: गजराज राणा

कोरोना की चैन तोड़ने के लिए सम्पूर्ण लोकडाऊन आवश्यक: गजराज राणा
  •  दिशा सांस्कृतिक एवं सामाजिक संगठन की बैठक को सम्बोधित करते गजराज राणा

देवबंद [24CN] : शिक्षक नगर स्थित पूर्व नगरध्यक्ष गजराज राणा के आवास पर आयोजित बैठक में दिशा सांस्कृतिक एवं सामाजिक संगठन के सदस्यों द्वारा कोरोना महामारी पर चिंता व्यक्त की गई।

बैठक में भाजपा के पूर्व नगरध्यक्ष गजराज राणा ने कहा कि कोरोना के बढते कदमों से हालात दिन प्रति दिन खराब होते जा रहे है। अस्पताल में बेड और आक्सीजन की कमी हो रही है तथा श्मशान घाट और कब्रिस्तान में जगह कम पड़ रही है। अपने परिवार के सदस्यों के असमय काल के गाल में जाने पर आम जनता में दहशत का माहोंल है। हांलाकि राज्य और केन्द्र सरकार अपनी पुरी क्षमता से लोगों का जीवन बचाने का प्रयास कर रही है। लेकिन १४० करोड़ की आबादी वाले भारत में कोरोना के बढते मरीजों से सब संसाधन कम पड़ रहे है। उन्होने कहा कि शासन प्रशासन के कोविड गाइड लाइन के बावजूद कुछ लोग मानने को तैयार नहीं है तथा शादी ब्याह, पार्टी में मंदिर मस्जिद मे सोशल डिसटेंसिंग का जमकर उलधंन हो रहा है।

उन्होने कहा कि जुर्माना तथा समझाने के बाद भी लोग मासक लगाने की अनदेखी कर रहे है। आवागमन के कारण कोरोना प्रकोप बढ़ता जा रहा है। रात्रि कालीन कफ्र्यू व वीकएंड लोकडाऊन से भी हालात सामान्य नहीं हो रहे है। ऐसे में एकमात्र और अंतिम उपाय सम्पूर्ण लोकडाऊन है। बिना लोकडाऊन इस महामारी को नियंत्रित करना मुश्किल ही नामुमकिन नजर आ रहा है। यह समय केंद्र सरकार द्वारा कडे फैसले लेने का है। इससे पहले कि हम अपनों को खोये, अपनों की जान बचाने के लिए उन्होने केन्द्र सरकार से तुरंत सम्पूर्ण लोकडाऊन लगाने की मांग की। इस दौरान गजराज राणा, डोली गोयल, संतोष कामबोज, शुभलेश शर्मा,  बिजेंद्र गुप्ता आदि सदस्यगण मौजूद रहे।


पत्रकार अप्लाई करे Apply