मीनू त्यागी समेत पांच बदमाश कोर्ट में पेश, 12 साल से बना रखा था बीमारी का बहाना, आरोप तय

 

मुजफ्फरनगर में गैंगस्टर के मामले में पिछले 12 साल से बीमारी का बहाना बनाकर कोर्ट में पेश नहीं हो रहे सूचीबद्ध माफिया सरगना मीनू त्यागी समेत पांच बदमाशों पर अदालत ने आरोप तय कर दिए हैं। गुरुवार को पुलिस ने कड़ी सुरक्षा में सभी को कोर्ट में पेश किया। अदालत ने सभी पर गैंगस्टर के मामले में आरोप तय करते हुए अभियोजन पक्ष को गवाह 22 अक्तूबर को पेश करने के आदेश दिए हैं।

पश्चिमी यूपी के कुख्यात रहे विक्रांत उर्फ विक्की त्यागी की पत्नी मीनू त्यागी के साथ ही गांव बहेड़ी निवासी सुशील और बबलू व बिट्टू और सर्वेंद्र निवासी बधाई खुर्द के खिलाफ वर्ष 2007 में गैंगस्टर एक्ट के तहत रिपोर्ट दर्ज की गई थी। एसएसपी अभिषेक यादव ने बताया कि उक्त सभी आरोपियों के खिलाफ गैंगस्टर कोर्ट (विशेष न्यायाधीश/अपर सत्र न्यायाधीश कोर्ट नंबर-पांच) में वाद विचाराधीन था, लेकिन आरोपी लगातार बीमारी का बहाना बनाकर कोर्ट में पेश नहीं हो रहे थे। गुरुवार को पुलिस ने उक्त सभी आरोपियों को कड़ी सुरक्षा के बीच गैंगस्टर कोर्ट में पेश किया। इनमें से सुशील को एसएसपी के विशेष प्रयासों से देवरिया जेल से लाकर कोर्ट में पेश कराया गया।

एसएसपी ने बताया कि कोर्ट में उक्त सभी आरोपियों के खिलाफ आरोप तय कर दिए गए हैं, जिसके चलते जल्द ही उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई होने का रास्ता साफ हो गया है। उल्लेखनीय है कि उक्त पांचों को सतीश त्यागी हत्याकांड में 2017 में उम्रकैद की सजा भी हो चुकी है। इसी हत्याकांड के बाद उक्त सभी पर यह गैंगस्टर एक्ट का मुकदमा दर्ज किया गया था।

 
 

Related posts

Top