दिल्ली में एक महीने में तीसरी बार भूकंप, गाजियाबाद के पास था केंद्र

 

 

  • राजधानी दिल्ली में रविवार को पहले आंधी और बारिश, फिर भूंकप आया
  • भूकंप का केंद्र गाजियाबाद बताया गया, रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 3.5 थी
  • महीनेभर में यह भूकंप का तीसरा झटका था, इससे पहले अप्रैल में 24 घंटे में दो बार भूकंप आया था

नई दिल्ली
कोरोना वायरस लॉकडाउन के बीच राजधानी दिल्ली में फिर एक बार भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। महीनभर में यह तीसरी बार है। रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 3.5 मापी गई। इसका सेंटर दिल्ली के पास गाजियाबाद बताया जा रहा है। इससे पहले 12 और 13 अप्रैल को भी दिल्ली में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे।

24 घंटे में दो बार आया था भूकंप
इससे पहले दिल्ली में 12 और 13 अप्रैल को भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। 12 अप्रैल को दिल्ली एनसीआर में शाम 5:50 के करीब भूकंप के झटके महसूस किए गए। कोरोना वायरस लॉकडाउन की वजह से उस दिन भी ज्यादातर लोग अपने घरों में ही थे ऐसे में सबने झटके महसूस किए। तब भूकंप की तीव्रता 3.5 बताई गई थी। तब केंद्र दिल्ली के ही पूर्वी हिस्से में था।

दिल्ली के लिए भूकंप के झटके क्या कोई बड़ा संकेत?

दिल्ली के लिए भूकंप के झटके क्या कोई बड़ा संकेत?लॉकडाउन के बीच अगर भूकंप आ जाए तो क्‍या करेंगे? यह सवाल इस हफ्ते की शुरुआत में खूब पूछा गया। इसके पीछे वजह थी दिल्ली में 12 और 13 मार्च को 24 घंटों के भीतर आए दो भूकंप। दोनों बार भूकंप का केंद्र ईस्‍ट दिल्‍ली था। लोग घबरा गए और कुछ जगह तो लोग घरों से बाहर निकल आए। लेकिन अब सवाल यह है कि क्‍या दिल्‍ली में कोई बड़ा भूकंप आने वाला है?

इसके बाद 13 अप्रैल को फिर भूकंप आया था। इस दिन रिक्टर स्केल पर तीव्रता 2.7 दर्ज की गई थी। भूकंप (Earthquake) की अधिक तीव्रता के लिहाज से देश को पांच जोन में बांटा गया है। दिल्ली, अधिक तीव्रता वाले चौथे जोन में आता है।

 
 

Related posts

Top