ब्लड शुगर टेस्ट स्ट्रिप सस्ते में प्राप्त करे
Dr. Morepen BG-03 Blood Glucose Test Strips, 50 Strips (Black/White)

लंदन में 17 साल पहले हुई भारतीय की हत्या के सबूत जुटाने  घटनास्थल पर पहुंचे जासूस

 

लंदनः  ब्रिटेन में भारतीय मूल के व्यक्ति की हत्या से जुड़ीं जानकारियां जुटाने के लिए स्कॉटलैंड यार्ड के जासूस बुधवार को पश्चिमी लंदन पहुंचे। वहां लगभग 17 साल पहले भारतीय मूल के   राजेश ‘राज’ वर्मा (42) पर एक्टन पार्क में अगस्त 2003 में हमला किया गया था, जिसके बाद  पीड़ित को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। हालांकि वर्मा के सिर पर धारदार हथियार से हमला होने के चलते उनके मस्तिष्क को गंभीर क्षति पहुंची थी, जिसके कारण उन्हें कई सालों तक स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ा और हमले के 15 साल बाद मई 2018 में वर्मा की मौत हो गई।

वर्मा की मौत के बाद इस वर्ष मार्च में मेट्रोपोलिटन पुलिस ने हत्या के मामले की जांच शुरू की। वर्ष 2003 में पुलिस ने जांच की थी लेकिन किसी संदिग्ध को गिरफ्तार नहीं किया गया था। मेट्रोपॉलिटन पुलिस की डिटेक्टिव चीफ इंस्पेक्टर विकी टनस्टाल ने कहा, “हमारा मानना है कि अपने किसी दोस्त और एक अन्य व्यक्ति के बीच विवाद में हस्तक्षेप करने के बाद राज पर हमला हुआ था। संदिग्ध हमलावर एक्टन क्षेत्र के स्थानीय व्यक्ति हो सकते हैं और संभव है कि वह अब भी वहां रह रहे हों या उनका कोई संपर्क हो।

सन 2003 में पुलिस ने जांच की थी लेकिन किसी संदिग्ध को गिरफ्तार नहीं किया गया था।  टनस्टाल ने कहा, यह चौंका देने वाला अपराध है। राज के हत्यारे की पहचान करने के लिए मैं आपकी सहायता चाहती हूं, इसलिए हमने अपराधियों के बारे में सूचना देने वाले को 20,000 पाउंड का पुरस्कार देने की घोषणा की है। राज के परिवार को इंसाफ नहीं मिला है और हम हत्या के इस मामले को सुलझाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। उन्होंने यह भी कहा कि जो भी हमारे पास इस बाबात जानकारी लेकर आएगा, हम उसकी पहचान गुप्त रखेंगे।

 
 

Related posts

Top