Bihar News: उद्योग मंत्री श्याम रजक को जेडीयू ने पार्टी से निकाला, नीतीश कैबिनेट से भी हुए बर्खास्त

Bihar News: उद्योग मंत्री श्याम रजक को जेडीयू ने पार्टी से निकाला, नीतीश कैबिनेट से भी हुए बर्खास्त

पटना
नीतीश कैबिनेट में उद्योग मंत्री और जेडीयू के वरिष्ठ नेता श्याम रजक को पार्टी ने निकाल दिया है। नेतृत्व को जैसे ही जानकारी लगी कि वे पार्टी छोड़ने वाले हैं, इसके बाद यह कार्रवाई की गई है। राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार की सहमति के बाद जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने यह आदेश जारी किया है।पार्टी से निकाले जाने के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने श्याम रजक को मंत्रिमंडल से भी बर्खास्त कर दिया है। सीएम नीतीश ने बर्खास्तगी की सिफारिश राज्यपाल से कर दी है।

कहा जा रहा है कि श्याम रजक जल्द ही जेडीयू छोड़ने का ऐलान करने वाले थे। जैसे ही इस बाद की खबर पार्टी आला कमान को लगी उन्होंने अपने फैसले की जानकारी जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष सह सांसद बशिष्ट नारायण सिंह को दे दी। जिसके बाद ने बशिष्ट नारायण सिंह ने आदेश जारी कर कहा कि फुलवारी विधानसभा क्षेत्र के विधायक श्याम रजक को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित करते हुए दल से निष्कासित कर दिया गया है।
पार्टी ने कर ली थी टिकट काटने की तैयारी!
सूत्रों के मुताबिक, श्याम रजक की पारंपरिक सीट फुलवारीशरीफ से पार्टी ने उनका टिकट काटने की तैयारी कर ली थी। इस सीट से अरुण मांझी को टिकट मिलने की चर्चा है। इन सब बातों से श्याम रजक (Shyam Rajak) उपेक्षित महसूस कर रहे थे। जिसके चलते वो पार्टी छोड़ना चाहते थे। श्याम रजक ने कहा है कि वे सोमवार को अपने नए फैसले की घोषणा करेंगे। उनका झगड़ा किसी से नहीं है। लड़ाई विचारधारा की है। कहा, “मैैं बाबा साहब भीम राव अंबेडकर व पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर की तस्वीर के नीचे बैठने वाला आदमी हूं। उनके सिद्धांतों पर आगे बढ़ता हूं।”

श्याम रजक को मंत्रीमंडल से बर्खास्त करने के नीतीश के फैसले को राज्यपाल ने भी मंजूदी दे दी। राजभवन ने नीतीश के फैसले पर मुहर लगाते हुए श्याम रजन का मंत्रिमंडल से बर्खास्त करना मंजूर कर लिया है।

आरजेडी सरकार में मंत्री रह चुके हैं श्याम रजक
जेडीयू से पहले श्याम रजक (Shyam Rajak) लालू प्रसाद यादव की पार्टी आरजेडी में थे और राबड़ी देवी के मंत्रिमंडल में मंत्री थे। लेकिन 2009 में आरजेडी के फुलवारी शरीफ से विधायक पद से इस्तीफा देकर श्याम रजक (Shyam Rajak) जेडीयू में शामिल हो गए थे। हालांकि उप चुनाव हार गए थे, लेकिन 2010 में विधायक बने और इन्हें मंत्री पद मिला था। वहीं 2015 में महागठबंधन से विधायक बने थे, लेकिन इस बार मंत्री नहीं बनाया गया। हालंकि बीजेपी के साथ बने गठबंधन में नीतीश कुमार ने उन्हें फिर से मंत्री बनाया था। बिहार में इसी साल अक्टूबर में विधानसभा हो सकते हैं।


पत्रकार अप्लाई करे Apply