बरेलीः ट्रक ने पहले बाइक को मारी टक्कर फिर वैन को भी ठोंका, एक परिवार के सात लोग समेत 9 की मौत

 

खास बातें

  • ट्रक ड्राइवर ने बाइक को टक्कर मारने के बाद वैन को भी रौंदा, चार गंभीर घायल
  • मरने वालों में सात एक ही परिवार के लोग, किराये की वैन लेकर बीसलपुर से आए थे बरेली
  • बाइक पर सवार शाहजरहांपुर के दंपती की भी जान गई, हादसे के बाद फरार हुआ ट्रक ड्राइवर

बरेली के बीसलपुर की ओर से सीमेंट भरकर ला रहे एक ट्रक ड्राइवर ने बुधवार को नौ लोगों की जान ले ली। बीसलपुर रोड पर कैलाश नदी के पुल पर पहले उसने एक बाइक को टक्कर मारी।

बाइक पर सवार पति-पत्नी तो दूर जा गिरे और ट्रक के पिछले हिस्से में फंसी बाइक करीब आधा किमी तक घिसटती चली गई। उसमें आग भी लग गई। इसके बाद ट्रक ने सामने से आ रही मारुति वैन को भी उड़ा दिया।

वैन में सवार सात लोगों की मौत हो गई जबकि चार घायल हो गए। बाइक के ट्रक से टकराने से घायल हुए पति-पत्नी ने भी शाम को अस्पताल में दम तोड़ दिया।

बीसलपुर रोड पर यह दर्दनाक हादसा बुधवार शाम करीब साढ़े पांच बजे हुआ। कैलाश नदी के पुल पर ट्रक ने सामने से आ रही बाइक को टक्कर मारी तो उस पर सवार शाहजहांपुर के पुवायां क्षेत्र के गांव बड़ागांव में रहने वाले 30 वर्षीय संदीप और उनकी 27 वर्षीय पत्नी रिचा दूर जा गिरे।

बाइक ट्रक के पिछले टायरों के बीच फंस गई और करीब आधा किलोमीटर तक घिसटने की वजह से उसमें आग लग गई। कुछ ही दूर आगे जाकर ट्रक ने एक मारुति वैन को भी टक्कर मार दी।

वैन में बीसलपुर के मोहल्ला हबीबुल्ला खां जनूबी निवासी आबिद के परिवार के लोग सवार थे। मंगलवार को आबिद की पत्नी परवीन का बरेली के एक अस्पताल में प्रसव हुआ था। ये लोग परवीन और उसके नवजात बच्चे को देखने बीसलपुर के ग्यासपुर निवासी यूनिस अली की वैन किराये पर लेकर बरेली आए थे और बीसलपुर लौट रहे थे।

भीषण टक्कर से वैन के परखचे उड़ गए। मौके पर पहुंची भुता पुलिस ने गांव वालों की मदद से वैन से सभी लोगों को निकलवाकर अलग-अलग अस्पतालों में भिजवाया।

इनमें से इकरार की 22 वर्षीय बेटी शमा, साबिर खां की 28 वर्षीय पत्नी शीबा और छह माह के बेटे हुसैन, सुहेल खां की 40 वर्षीय पत्नी रहमत बी उर्फ मुन्नी, सोहेल की दस साल की बेटी इस्मा, महमूद की 42 वर्षीय पत्नी अजमत बी के साथ वैन ड्राइवर यूनुस को मृत घोषित कर दिया गया।

बाइक पर आ रहे संदीप और उनकी पत्नी रिचा ने भी शहर के एक अस्पताल में दम तोड़ दिया। हादसे के बाद डीएम वीरेंद्र कुमार और एसएसपी शैलेश कुमार पांडेय ने मौका मुआयना कर अस्पताल जाकर घायलों की हालत का जायजा लिया। सभी मृतकों का रात में ही पोस्टमार्टम करा दिया गया।

 
 

Related posts

Top