Aaj Ka Panchang: पढ़ें 23 जनवरी 2021 का पंचांग, सर्वार्थ सिद्धि और रवि योग आज, जानें मुहूर्त, राहुकाल एवं दिशाशूल

Aaj Ka Panchang: पढ़ें 23 जनवरी 2021 का पंचांग, सर्वार्थ सिद्धि और रवि योग आज, जानें मुहूर्त, राहुकाल एवं दिशाशूल

Aaj Ka Panchang: हिन्दी पंचांग के अनुसार, आज पौष मास के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि है। आज 23 जनवरी 2021 और दिन शनिवार है। आज तीन योग लग रहे हैं। रवि योग सुबह से लेकर रात तक है, वहीं सर्वार्थ सिद्धि योग और अमृत सिद्धि योग रात से अगले दिन प्रात:काल तक है। आज नेताजी सुभाषचंद्र बोस की जयंती है। शनिवार दिन होने के कारण आज आपको संकटमोचन हनुमान जी तथा शनि देव की आराधना करनी चाहिए। ये दोनों ही आपको संकटों से बचाएंगे तथा उनकी कृपा से आपकी उन्नति भी होगी। आज के पंचांग में राहुकाल, शुभ मुहूर्त, दिशाशूल के अलावा सूर्योदय, चंद्रोदय, सूर्यास्त, चंद्रास्त आदि के बारे में भी जानकारी दी जा रही है।

आज का पंचांग

दिन: शनिवार, पौष मास, शुक्ल पक्ष, दशमी तिथि।

आज का दिशाशूल: पूर्व।

आज का राहुकाल: प्रात: 09:00 बजे से 10:30 बजे तक।

विशेष: नेताजी सुभाषचंद्र बोस जयंती।

विक्रम संवत 2077 शके 1942 उत्तरायन, दक्षिणगोल, शिशिर ऋतु पौष मास शुक्ल पक्ष की दशमी 20 घंटे 57 मिनट तक, तत्पश्चात् एकादशी कृतिका नक्षत्र 21 घंटे 33 मिनट तक, तत्पश्चात् रोहिणी नक्षत्र शुक्ल योग 22 घंटे 03 मिनट तक, तत्पश्चात् ब्रह्म योग वृष में चंद्रमा।

सूर्योदय और सूर्यास्त

आज के दिन सूर्योदय प्रात:काल 07 बजकर 13 मिनट पर होगा, वहीं सूर्यास्त शाम को 05 बजकर 53 मिनट पर होगा।

चंद्रोदय और चंद्रास्त

आज का चंद्रोदय दोपहर 01 बजकर 21 मिनट पर होगा। चंद्र का अस्त अगले दिन तड़के 03 बजकर 16 मिनट पर होगा।

आज का शुभ समय

अभिजित मुहूर्त: आज दोपहर 12 बजकर 12 मिनट से दोपहर 12 बजकर 54 मिनट तक।

विजय मुहूर्त: दोपहर 02 बजकर 20 मिनट से दोपहर 03 बजकर 02 मिनट तक।

अमृत काल: शाम को 06 बजकर 52 मिनट से रात 08 बजकर 39 मिनट तक।

रवि योग: प्रात: 07 बजकर 13 मिनट से रात 09 बजकर 33 मिनट तक। उसके बाद अगले दिन प्रात: 04 बजकर 14 मिनट से सुबह 07 बजकर 13 मिनट तक।

सर्वार्थ सिद्धि योग: रात 09 बजकर 33 मिनट से अगले दिन प्रात: 07 बजकर 13 मिनट तक।

अमृत सिद्धि योग: रात 09 बजकर 33 मिनट से अगले दिन प्रात: 07 बजकर 13 मिनट तक।

आज पौष शुक्ल दशमी है। आज शनिवार को हनुमान चालीसा, बजरंग बाण, सुंदरकांड, शनि चालीसा आदि का पाठ करना उत्तम होता है। आज आप कोई नया कार्य करना चाहते हैं तो शुभ मुहूर्त का ध्यान रखें।


पत्रकार अप्लाई करे Apply