तीन तलाक से पीडि़त महिलाओं के पुनर्वास की व्यवस्था करेगी UP सरकार

 
सहारनपुर में पत्रकारों से वार्ता करती महिला अधिवक्ता राष्ट्रवादी महिला मुस्लिम संघ की अध्यक्ष फरहा फैज। सहारनपुर में पत्रकारों से वार्ता करती महिला अधिवक्ता राष्ट्रवादी महिला मुस्लिम संघ की अध्यक्ष फरहा फैज।

सहारनपुर। राष्ट्रवादी महिला मुस्लिम संघ अध्यक्ष एवं सुप्रीम कोर्ट में तीन तलाक मुद्दे पर महिलाओं की लड़ाई लड़ रही वरिष्ठ अधिवक्ता फरहा फैज ने कहा कि तीन तलाक से पीडि़त महिलाओं के पुनर्वास के लिए उन्होंने प्रदेश सरकार को एक प्रस्ताव दिया है। जिस पर मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने मुख्य सहमति व्यक्त कर दी है। रानी लक्ष्मी योजना के माध्यम से उनकी संस्तुति पर कैबिनेट मंत्रिमंडल में शीघ्र ही प्रस्ताव को मंजूरी मिलने जा रही है। यह महिलाओं के इंसाफ की लड़ाई के लिए मील का पत्थर साबित होगा।

दिल्ली रोड स्थित एक होटल के सभागार में पत्रकारों से वार्ता करते हुए संघ की अध्यक्ष फरहा फैज ने कहा कि वह पिछले लम्बे समय से उच्चतम न्यायालय में मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड व जमीतुल उलेमा हिंद के विरूद्ध तीन तलाक के मुद्दे पर न्यायालय में पीडि़त महिलाओं की मजबूती से पैरवी कर रही है। उ.प्र. में तीन तलाक से पीडि़त महिलाओं के पुनर्वास की मांग को लेकर वह प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिली और कई वार्ताओं के बाद मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने उनके द्वारा तैयार किए गए प्रस्ताव पर सहमति जता दी है।

उन्होंने बताया कि इस सम्बंध में 19 अप्रैल 19 अप्रैल को अपनी सहमति कैबिनेट मंत्री रीता बहुगुणा जोशी की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में तलाक पीडि़त महिलाओं को रानी लक्ष्मीबाई आर्थिक कोष से सहायता प्रदान किए जाने के प्रस्ताव को सहमति बनी है।

उन्होंने बताया कि प्रस्ताव में उनके द्वारा पीडि़तों के लिए आश्रय सदन, बच्चों की शिक्षा की उचित प्रबंध की व्यवस्था तथा कौशल विकास योजना के अंतर्गत रोजगारपरक प्रशिक्षण दिलाकर रोजगार प्रदान करने के अलावा रानी लक्ष्मीबाई योजना के अलावा अन्य सरकारी महिला उत्थान एवं मुस्लिम महिलाओं के लिए संचालित योजनाओं का लाभ दिए जाने का प्रस्ताव दिया गया है।

उन्होंने कहा कि उच्चतम न्यायालय में तीन तलाक के मुद्दे पर पीडि़त महिलाओं को न्याय दिलाने की लड़ाई लड़ रही है और यह मुद्दा पूरे देश में जागरूकता के साथ उठ रहा है।


UP government will arrange rehabilitation for women suffered from three divorce
 
 

Related posts

Top