रिवोल्वर रानी: कुछ और ही निकली दुल्हे को अगवा करने की कहानी

 

हमीरपुर: हमीरपुर के भवानी गांव से गर्लफ्रेंड द्वारा किडनैप लड़के को पुलिस जगह-जगह ढूंढ़ रही थी, लेकिन वह अपने घर में ही सोता मिला। मौदहा थाने की पुलिस ने गुरुवार की सुबह करीब 4 बजे उसे उसके घर मोहनपुरवा (बांदा) से उठा लिया। दूल्हे की किडनैपर बांदा की वर्षा साहू ने बुधवार की रात पुलिस को बताया था कि सोमवार को रातभर अशोक यादव उसके साथ रहा। मंगलवार की दोपहर वह खुद चला गया था। उसे किसी ने बंधक नहीं बनाया था। वह कहां गया, उसे पता नहीं है। संदेह के आधार पर मौदहा एसओ अजय सिंह और बांदा पुलिस ने मोहनपुरवा गांव में उसके घर छापा मारा तो दूल्हा घर में सोते हुए पाया गया। मौदहा पुलिस उसे अपने साथ ले गई है।

बांदा के बन्योटा मोहल्ले से बुधवार रात गिरफ्तार की गई दूल्हे की गर्लफ्रेंड वर्षा साहू ने बताया कि अशोक पर किसी ने रिवॉल्वर नहीं ताना था। भवानी गांव में हमलोग बारात के जनवासे पहुंचे। अशोक यादव से बात की, उसने खुद कहा था कि उसकी शादी जबरन की जा रही है। वह शादी नहीं करना चाहता। इसके बाद वह खुद ही स्कॉर्पियो कार में बैठ गया और उनके साथ चला आया। वर्षा ने पुलिस को यह भी बताया कि कुछ महीने पहले उन दोनों ने कोर्ट मैरिज भी कर ली थी।

सहेली को छोड़ दिया
पुलिस ने वर्षा साहू की सहेली सुकीर्ति सोनी और राहुल नामक युवक को भी गिरफ्तार किया था। वर्षा का कहना है कि किसी ने दूल्हे का किडनैप नहीं किया। उसकी सहेली सुकीर्ति पूरी तरह निर्दोष है। इसके बाद पुलिस ने शहर कोतवाली में पूछताछ के बाद सुकीर्ति को छोड़ दिया। वर्षा और राहुल को पुलिस मौदहा थाने (हमीरपुर) ले गई। दूल्हा अशोक यादव, कथित किडनैपर वर्षा साहू और राहुल से गुरुवार को देर तक पूछताछ होती रही। मौदहा एसओ अजय सिंह ने बताया कि दोनों पक्षों के परिवारीजनों को थाने बुलाया गया। दोनों से बातचीत के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

मां बोलीं, बेटी पर एकतरफा कार्रवाई
मीडिया के सामने लाए जाने पर वर्षा साहू जहां बेबाकी से बोलती रही कि उसने कोई कट्टा नहीं लगाया, अशोक उसके साथ मर्जी से आया, वहीं लड़का रोता रहा। लड़के के पिता की तहरीर पर वर्षा के खिलाफ अशोक के अपहरण का मामला दर्ज करने पर लड़की की मां सन्तोष साहू ने कहा कि लड़के का पिता यादव बिरादरी का है और पूर्व प्रधान एवं पहुंच वाला है। इसलिए हमारी न सुन, हमारे खिलाफ मामला दर्ज कर गलत किया गया है। हम कुल्फी और बर्फ बेचकर परिवार का भरण-पोषण करते हैं। अगर हमारी लड़की के खिलाफ आगे भी एकतरफा कार्रवाई हुई तो हमारे हताशा में उठाए गए कदम का जिम्मेदार पुलिस होगी।

 

 
 

Related posts

Top