तीन हजार रुपये के लिए कर दी थी दोस्त की हत्या, आरोपी गाजियाबाद से गिरफ्तार 

 

खजूरी खास इलाके में उधार दिए तीन हजार रुपये वापस मांगने पर एक युवक ने अपने दोस्त के सिर पर ईंट और डंडा मारकर हत्या कर दी। वारदात को अंजाम देने के बाद वह लगातार दोस्त के परिजनों को दिलासा देता रहा, ताकि पुलिस के शक के दायरे से दूर रहे, लेकिन छानबीन करने के बाद आखिरकार पुलिस ने आरोपी को गाजियाबाद रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार कर लिया।

जिला पुलिस उपायुक्त वेद प्रकाश सूर्या ने बताया कि मृतक की पहचान अमित के रूप में हुई, जबकि आरोपी प्रांजल डेका है। जांच में पता चला कि दोनों असम में शिलांग की एक यूनिवर्सिटी में साथ पढ़ते थे। दोनों के परिवार के बीच अच्छे संबंध थे। दिल्ली आने के बाद प्रांजल अमित के घर रुकता था। 25 अक्तूबर को पुलिस को अमित की हत्या की सूचना मिली।

अमित के फोन की कॉल डिटेल खंगाली गई, जिसमें प्रांजल का नंबर मिला। पूछताछ में आसपास के लोगों ने बताया कि प्रांजल अक्सर अमित के पास आता था। पुलिस की एक टीम ने असम में प्रांजल के घर दबिश दी, लेकिन वह वहां से फरार था। आसपास के लोगों से पुलिस को पता चला कि वह ट्रेन से दिल्ली के लिए निकला है। पुलिस ने आरोपी को गाजियाबाद रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार कर लिया।

पूछताछ में पहले तो वह हत्या की बात से इंकार करता रहा, लेकिन कड़ाई से पूछताछ में उसने अपना गुनाह कुबूल कर लिया। उसने बताया कि कारोबार में उसे काफी घाटा हुआ था। उसने अमित से तीन हजार रुपये उधार लिए थे। इसके साथ ही उसने अन्य लोगों से भी पैसे लिए।

अमित उससे अक्सर रुपये वापस करने और लोगों से पैसे लेने को लेकर भला बुरा कहता था। 24 की रात इसी बात पर हुए झगड़े में उसने अमित के सिर पर ईंट और डंडा मारकर उसकी हत्या कर दी और बाहर से कमरे का दरवाजा बंद कर फरार हो गया। जांच में पता चला है कि प्रांजल पर दुष्कर्म का एक मामला भी दर्ज है, जिसकी पुलिस पुष्टि कर रही है।

 
 

Related posts

Top