अलीबाबा में नौकरी के लिए डिग्री नहीं, चाहिए ये क्वॉलिटीज

 

ग्लिंडा एल्व्स: चीन के सबसे अमीर शख्स, जैक मा अपने बिजनस को आगे बढ़ाने के तरीके बखूबी जानते हैं। उनके हिसाब से सफल बिजनस के लिए सही टीम का होना बहुत जरूरी है। आखिर किन बातों को ध्यान में रखकर जैक मा लोगों को अपनी कंपनी में नौकरी देते हैं। इसका खुलासा उन्होंने किया है।

‘खुद से ज्यादा स्मार्ट होना चाहिए कैंडिडेट’
ग्लोबल इकॉनामिक फोरम में उन्होंने कहा, ‘जब आप खुद से ज्यादा स्मार्ट लोगों को नौकरी पर रखते हैं, तो आपका कारोबार सफल होगा और आप खुश रहेंगे।’ जैक मा कहते हैं, ‘सबसे पहले तो आपके कैंडिडेट को स्मार्ट होना चाहिए। अगर वह बेवकूफ है तो इसका कोई इलाज नहीं। कैंडिडेट को मुझसे ज्यादा स्मार्ट होना चाहिए। जब मैं किसी को नौकरी पर रखता हूं तो ये सोचकर रखता हूं कि कैंडिडेट को मुझसे ज्यादा स्मार्ट होना चाहिए ताकि 4-5 साल में वह व्यक्ति मेरा बॉस बन सके और मैं उसके लिए काम करना पसंद करूं।’

 

जैक मा के हिसाब से एक और क्वॉलिटी है जो स्मार्ट होने के साथ-साथ जरूरी है। ‘आपके कैंडिडेट की पर्सनालिटी अच्छी होनी चाहिए। कोई ऐसा जो हमेशा सकारात्मक रहे और हार न माने। मैं कभी किसी की डिग्री-डिप्लोमा या ये नहीं पूछता कि वे किस यूनिवर्सिटी से हैं, यह बिल्कुल जरूरी नहीं है।’

‘डिग्री नहीं है जरूरी’
मा ने बताया कि उनकी कोर टीम के सदस्यों में से किसी के पास भी किसी बेहतरीन शैक्षणिक संस्थान से डिग्री नहीं है। ‘लोग अलीबाबा के संस्थापकों की ओर देखते हैं और सोचते हैं कि हम लेजंडरी हैं। वो कहते हैं, “वाह! आप अलीबाबा के संस्थापक हैं, आप तो शानदार होंगे” लेकिन सच्चाई तो ये है कि हममे से ज्यादातर लोगों के पास शुरुआत में कोई काम तक नहीं था, हम किसी शानदार यूनिवर्सिटी से पढ़ाई करके नहीं आए थे लेकिन हम सीखना चाहते थे और हम सीखने के लिए तैयार थे। हम भविष्य में भरोसा रखते हैं और सीखने की चाह भी।

‘किस कंपनी में काम करते थे यह जरूरी नहीं’
अलीबाबा के संस्थापक को किसी एम्पलाई का पास्ट रेकॉर्ड इम्प्रेस नहीं करता। ‘सही लोगों को जॉब पर रखिए, साथ काम कीजिए, ट्रेन कीजिए और एक दूसरे के साथ विकास कीजिए। ये मत सोचिए कि फलाने ने गूगल में, अलीबाबा में या फेसबुक में काम किया है तो वो बेहतरीन होगा’ जैक मा ने कहा।

आपको बता दें कि पिछले दिनों ओवरटाइम वर्क कल्चर की वकालत करने के बाद जैक मा को लोगों ने काफी ट्रोल किया था। उनकी काफी आलोचना भी हुई थी।

ये भी पढ़े>>करण ओबेरॉय के साथ हुई घटना के बाद ‘MenToo’ मूवमेंट शुरू करने की जरूरत है: Pooja Bedi

 
 
Tags

Related posts

Top