इन कारणों से शेयर बाजार में बरकरार है तेजी का सिलसिला, सेंसेक्स और निफ्टी दोनों में रेकॉर्ड उछाल

 

नई दिल्ली: शेयर बाजार में तेजी का सिलसिला बरकरार है। संवेदी सूचकांक सेंसेक्स और निफ्टी ने बुधवार को बैंकिंग और ऑटो कंपनियों के शेयरों में शानदार तेजी की बदौलत कारोबार शुरू होने के महज आधे घंटे के भीतर ताजा रेकॉर्ड उच्च स्तर को छू दिया। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा रेट कट की उम्मीद और वैश्विकों बाजारों से सकारात्मक संकेतों का असर बाजार पर आज भी दिखा।

विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) द्वारा निवेश में लगातार बढ़ोतरी के कारण डॉलर के मुकाबले रुपये में 13 पैसे की तेजी के असर ने बाजार के उत्साह को और बढ़ावा दिया।

सबसे बड़ी बात यह है कि एशियाई विकास बैंक (ADB) द्वारा भारत तथा दक्षिण-पूर्व एशिया की आर्थिक विकास दर के अनुमान को घटाए जाने के बाद भी बाजार में उत्साह बरकरार दिखा। एडीबी की नवीनतम एशियन डेवलपमेंट आउटलुक रिपोर्ट के मुताबिक, भारत की जीडीपी विकास दर 7.2 फीसदी रहेगी, जो दिसंबर के 7.6 फीसदी के अनुमान से कम है।

सुबह 9.37 बजे के आसपास बीएसई का संवेदी सूचकांक सेंसेक्स उछलकर 39,266.85 पर पहुंच गया, वहीं निफ्टी ने भी रेकॉर्ड स्तर को छू दिया और यह 11,761 के स्तर पर पहुंच गया। एनएसई पर 32 कंपनियों के शेयर हरे निशान पर, जबकि 18 कंपनियों के शेयर लाल निशान पर कारोबार कर रहे थे। वहीं, बीएसई पर 23 कंपनियों के शेयरों में लिवाली, तो सात कंपनियों के शेयरों में बिकवाली चल रही थी। टाटा स्टील के शेयरों में सर्वाधिक 1.61 फीसदी की तेजी दर्ज की गई।

एचडीएफसी बैंक, कोटक बैंक, इंडसइंड बैंक और एसबीआई के शेयरों में तेजी से सूचकांक को बल मिला। इन्फोसिस और हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड (एचयूएल) के शेयरों में गिरावट दर्ज की गई। इसके अलावा, बीएसई मिडकैप और बीएसई स्मॉलकैप में भी बेंचमार्क सेंसेक्स की तर्ज पर क्रमशः 0.50 फीसदी और 0.45 फीसदी का उछाल दर्ज किया गया।

बीएसई पर आईटी, ऑइल और गैस क्षेत्रों को छोड़कर तमाम सेक्टर्स में तेजी दर्ज की गई। राजेश एक्सपो, टाइटन और वोल्टास की बदौलत कंज्यूमर ड्यूरेबल्स की कंपनियों में सर्वाधिक 1.09 फीसदी की तेजी दर्ज की गई।

इस बीच, विदेशी संस्थागत निवेशकों ने मंगलवार को घरेलू शेयर बाजार में 543.36 करोड़ रुपये का निवेश किया गया। वहीं घरेलू संस्थागत निवेशकों (डीआईआई) ने 437.70 करोड़ रुपये की शुद्ध खरीदारी की।

ये भी पढ़े>>लोकसभा चुनाव: यूपी की इन सीटों पर कांग्रेस के मुस्लिम उम्मीदवार, गठबंधन है नाराज

 
 
Tags

Related posts

Top