डीआरडीओ को मिली बड़ी कामयाबी, तेजस के नेवल वर्जन में इस टेक्निक का किया सफल परीक्षण

 

रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) और एरोनॉटिकल डेवलपमेंट एजेंसी ने आज गोवा तट पर स्थित टेस्ट सेंटर पर एलसीए तेजस के नेवल वर्जन को अरेस्टिंग गियर की सहायता से सफलतापूर्वक शार्ट लैंड कराया।

अरेस्टिंग गियर की सहायता से किसी भी फाइटर प्लेन को छोटे रनवे जैसे विमानवाहक पोत पर आसानी से लैंड कराया जा सकता है। इस तकनीकी की सफल परीक्षण के बाद अब एलसीए तेजस के नेवल वर्जन को विक्रमादित्य विमानवाहक पोत पर तैनात किया जा सकेगा।

अमेरिकी विमान की अरेस्ट लैंडिंग (सोशल मीडिया)

इसके अलावा एलसीए तेजस के नेवल वर्जन को भारत के अगले विमानवाहक पोत आईएनएस विक्रांत पर भी तैनात किया जा सकेगा। भारत अमेरिका से शार्ट टेक ऑफ बट अरेस्ट रिकवरी ट्रूल्स को खरीदने का मन बना रहा है। इसे इस्तोबार या STOBAR भी बोला जाता है।

 
 

Related posts

Top