रक्षामंत्री राजनाथ सिंह का बड़ा बयान, अगर पाक से बातचीत होगी तो सिर्फ पीओके पर

 

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35-ए हटाने से बौखलाए पाकिस्तान को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कड़ी चेतावनी दी है। उन्होंने कहा कि पाक से अब सिर्फ पीओके पर बात होगी। सरकार के इस फैसले से देश में जहां खुशी की लहर है, वहीं पड़ोसी देश पाक बौखला गया है।

वह दुबला होता जा रहा है। उसका हाजमा खराब हो गया है। अब वह दुनिया के देशों का दरवाजा खटखटा रहा है। राजनाथ सिंह ने कहा कि हमने क्या अपराध कर दिया? पाक अब भी रुक-रुककर धमकी दे रहा है लेकिन अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रंप ने भी पाक को कह दिया कि जाओ भारत के साथ बैठकर बात करो, यहां आने की जरूरत नहीं है।

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने यह बात रविवार को पंचकूला के कालका में प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल की ‘जन आशीर्वाद यात्रा’ की शुरुआत करने के दौरान कही। उन्होंने कहा कि यह यात्रा काली माता के दर्शन के साथ शुरू हुई है जो राज्य के 90 विधानसभा सीटों से होकर गुजरेगी। यात्रा 8 सितंबर को रोहतक में समाप्त होगी। उन्होंने कहा कि वह इस मंच से यकीन दिलाना चाहते हैं कि सरकार रहे न रहे, भारत माता का मस्तक कभी झुकने नहीं देंगे।

पाकिस्तान के लोग कहते हैं कि दोनों देशों के बीच वार्ता होनी चाहिए। लेकिन किस बात पर बात होनी चाहिए। कौन सा मुद्दा है, क्यों बात होनी चाहिए? उन्होंने कहा कि पाकिस्तान से बात तभी होगी जब वह अपनी धरती से संचालित आतंकवाद को खत्म करेगा। यदि ऐसा नहीं हुआ तो फिर पाकिस्तान से बात करने का कोई औचित्य नहीं है।

भाजपा सरकार नहीं देश बनाने के लिए करती है राजनीति
राजनाथ सिंह ने कहा कि राष्ट्रीय स्वाभिमान के मुद्दों से हमारी सरकार ने समझौता नहीं किया है कि जैसा चल रहा है, वैसा ही चलने दें। हमने जो कुछ भी चुनावी घोषणा पत्र में कहा था, उसका पालन कर रहे हैं। जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 था, भारत आजाद हो गया था फिर भी देश में 2 संविधान और दो निशान थे।

 
 

Related posts

Top