संसद की वित्त और विदेश मामलों की स्थायी समिति की कमान अब भाजपा को, यहां देखें पूरी सूची

 

खास बातें

  • वित्त और विदेश मामलों की संसद की स्थायी समिति की कमान अब भाजपा को मिली
  • भाजपा सांसद जयंत सिन्हा और पीपी चौधरी करेंगे इन दोनों समितियों की अध्यक्षता
  • पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को रक्षा मामलों की समिति के सदस्य बनाया गया

वित्त और विदेश मामलों की संसद की स्थायी समिति की कमान अब भाजपा को मिल गई है। पिछली लोकसभा में इनकी अध्यक्षता कांग्रेस सांसदों के पास थी। लोकसभा सचिवालय द्वारा शुक्रवार देर रात जारी सूचना के मुताबिक भाजपा सांसद जयंत सिन्हा और पीपी चौधरी इन समितियों की अध्यक्षता करेंगे। पिछली लोकसभा में यह जिम्मेदारी कांग्रेस सांसद वीरप्पा मोइली और शशि थरूर के पास थी।

राहुल गांधी अब रक्षा मामलों की समिति के सदस्य

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी, अभिषेक मनु सिंघवी और शिवसेना के संजय राउत को रक्षा मामलों की समिति में शामिल किया गया है। इस समिति के अध्यक्ष भाजपा सांसद जुएल ओराम होंगे। हाल ही में टीडीपी छोड़कर भाजपा में शामिल हुए टीजी वेंकटेश को परिवहन, पर्यटन और संस्कृति मामलों की समिति की कमान सौंपी गई है। पहले यह जिम्मेदारी तृणमूल सांसद डेरेक ओ ब्रायन के पास थी। डेरेक को मानव संसाधन विकास संबंधी समिति में शामिल किया गया है। इस समिति अध्यक्षता भाजपा के सत्यनारायण जटिया करेंगे।

शशि थरूर को मिली नई जिम्मेदारी
कांग्रेस सांसद शशि थरूर को सूचना प्रौद्योगिकी संबंधी समिति का अध्यक्ष बनाया गया है। कांग्रेस के कार्ति चिदंबरम, भाजपा के सन्नी देओल और तृणमूल कांग्रेस की महुआ मोइत्रा को समिति का सदस्य बनाया गया है। कांग्रेस सांसद आनंद शर्मा को गृह मामलों की समिति की जिम्मेदारी दी गई है। वाईएसआर कांग्रेस के वी विजय साई को वाणिज्य मामलों की समिति का अध्यक्ष बनाया गया है।

 

 
 

Related posts

Top