बैंक लूट मामला: डीजीपी ने जताई नाराजगी, दिए 24 घंटे में खुलासे के निर्देश, ताबड़तोड़ दबिश

 

बागपत जिले में सिंडिकेट बैंक की शाखा तुगाना में दिन दहाड़े 15 लाख रुपये की लूट के मामले में पुलिस अब तक खाली हाथ है। पांच टीमें खुलासे के लिए लगी हैं। पुलिस अब तक 26 संदिग्ध युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर चुकी है। आईजी आलोक सिंह की टीम ने पड़ताल की। एसपी, एएसपी के अलावा क्राइम ब्रांच टीम ने छपरौली में डेरा डाल लिया है। डीजीपी ओमप्रकाश सिंह ने वारदात के संबंध में अधिकारियों से जानकारी ली और जल्द से जल्द खुलासे के निर्देश दिए। इसके बाद आईजी आलोक सिंह ने बैंक लूट के खुलासे के लिए शामली, बागपत, मुजफ्फरनगर और मेरठ जिले के तेज तर्रार पुलिस अधिकारियों की टीम गठित की है।

सोमवार को दिन दहाड़े बाइक पर सवार तीन नकाबपोश बदमाशों ने सिंडिकेट बैंक की शाखा तुगाना में लूट की घटना को अंजाम दिया। बदमाश मैनेजर हरमिंदर की कनपटी पर तमंचा रखा कर 15 लाख कैश लूट ले गए। बैंक मैनेजर ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। आईजी आलोक सिंह ने टीम गठित कर घटना का शीघ्र खुलासा करने के निर्देश दिए। एसपी प्रताप गोपेंद्र यादव, एएसपी अनिल कुमार सिंह, सीओ बड़ौत रामानंद कुशवाह के अलावा क्राइम ब्रांच की टीम ने छपरौली क्षेत्र में डेरा डाल रखा है।  पुलिस अब तक 26 संदिग्ध युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर चुकी है। रमाला-तुगाना मार्ग के अलावा गांवों में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली जा रही है।

पुलिस की एक टीम लूंब गांव के जंगल में भी कांबिंग कर बदमाशों की तलाश में जुटी है। पुलिस की टीमें बागपत, शामली के अलावा हरियाणा में भी दबिश दे रही हैं। लूट की घटनाओं में पूर्व में प्रकाश में आए बदमाशों की कुंडली खंगाली जा रही है, लेकिन अभी तक पुलिस खाली हाथ है। एसपी प्रताप गोपेंद्र यादव ने बताया कि घटना के खुलासे के लिए पांच टीमें लगी है। सर्विलांस की मदद ली जा रही है। संदिग्धों से पूछताछ करने में पुलिस जुटी हुई है। जल्दी ही बदमाशों को गिरफ्तार कर घटना का खुलासा कर दिया जाएगा।

 
 

Related posts

Top