बुलंदशहर हिंसा: पूछताछ में फौजी जीतू का बड़ा खुलासा, बोला- ‘मैं वहां मौजूद था’

 

बुलंदशहर Updated Sun, 09 Dec 2018

आरोपी जितेंद्र मलिक
आरोपी जितेंद्र मलिक
बुलंदशहर हिंसा मामले में मुख्य आरोपी जितेंद्र मलिक को यूपी पुलिस आज घटनास्थल लेकर पहुंची है। जहां बुलंदशहर के क्राइम ब्रांच ऑफिस में उससे पूछताछ जारी है। बुलंदशहर पुलिस जितेंद्र को आज कोर्ट में पेश कर रिमांड मांगेगी। आरोपी सोपोर में 22 राष्ट्रीय रायफल्स में तैनात था। जहां से सेना ने रविवार रात को 12.30 बजे उसे यूपी एसटीएफ को सौंपा।

बुलंदशहर हिंसा प्रकरण में मेरठ में एसएसपी एसटीएफ अभिषेक सिंह ने कहा कि हमने सेना के जवान जितेंद्र मलिक को गिरफ्तार कर लिया है। उसे सेना द्वारा शनिवार रात 12:50 बजे हमें सौंपा गया। जितेंद्र से प्रारंभिक पूछताछ की गई है। उन्हें बुलंदशहर भेजा जा रहा है जहां न्यायिक हिरासत के लिए अदालत के समक्ष पेश किया जाएगा।

एसएसपी एसटीएफ ने बताया कि जितेन्द्र ने स्वीकार किया है कि वह उस जगह था जब भीड़ ने इकट्ठा होना शुरू किया था। पहली नजर में यह सच पाया गया है। यह अभी तक नहीं कहा जा सकता है कि वह इंस्पेक्टर या सुमित को गोली मारने वाला व्यक्ति है। जितेंद्र ने कहा कि वह ग्रामीणों के साथ वहां गया था, लेकिन उसने पुलिस पर पत्थरबाजी नहीं की। अब उसके मोबाइल का फोरेंसिक जांच किया जाएगा।

इससे पहले जांच कर रही एसआईटी की रिपोर्ट के बाद शनिवार को एसएसपी, स्याना सीओ और चिंगरावठी चौकी प्रभारी को हटा दिया गया था।

बुलंदशहर ग्रामीण के एएसपी का हुआ तबादला

बुलंदशहर हिंसा पर रिपोर्ट आने के बाद तबादलों की जद में अब बुलंदशहर देहात के एएसपी रईस अख्तर भी आ गए हैं। उनका तबादला पीएसी मुख्यालय, लखनऊ कर दिया गया है। उनकी जगह बुलंदशहर ग्रामीण का एसएसपी मनीष मिश्र को बनाया गया है।

इससे पहले स्याना के सीओ सत्य प्रकाश शर्मा, चौकी इंचार्ज चिंगरावठी सुरेश कुमार और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कृष्ण बहादुर सिंह का तबादला किया जा चुका है।

 
 

Related posts

Top