Apply for Journalist

देहरादून: नारेबाजी को लेकर आमने-सामने आए दो समुदाय, बाजार बंद, तनाव के बाद पुलिस फोर्स तैनात

 

देहरादून  Fri, 05 Jul 2019 देहरादून में भिड़े दो समुदाय

देहरादून में भिड़े दो समुदाय
देहरादून में नारेबाजी को लेकर दो समुदाए के लोग आमने-सामने आ गए। मामला बढ़ने से शहर में तनाव की स्थिति पैदा हो गई है। सूचना मिलने पर पुलिस फोर्स भी मौके पर तैनात है। वहीं शहर में दुकानें और बाजार भी बंद करा दिए गए है।

जानकारी के अनुसार, शुक्रवार सुबह तबरेज हत्याकांड के विरोध में एक समुदाय के लोग गांधी पार्क के सामने प्रदर्शन के बाद वापस लौट रहे थे। वहीं इस दौरान दूसरे समुदाय के लोग किसी प्रदर्शन में शामिल होने जा रहे थे। इसी बीच वहां दोनों समुदाय के युवाओं के बीच नारेबाजी को लेकर मामला बढ़ गया।

हालात यहां तक पहुंच गए कि युवाओं में मार-पीट हो गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों समुदाय के लोगों को खदेड़कर मामला शांत किया। हालात बिगड़ने पर शहर में तहसील चौक से प्रिंस चौक तक जाम की स्थिति बन गई। वहीं इनामुल्लाह बिल्डिंग के पास का बाजार भी बंद करा दिया गया है।

भीम आर्मी ने भी किया था प्रदर्शन

बता दें कि गुरुवार को भीम आर्मी ने भी तबरेज हत्याकांड को लेकर रुड़की में भी प्रदर्शन किया था। जुलूस के रूप में हाईवे से होते हुए तहसील पहुंचने का था, लेकिन एक दिन पहले ही प्रशासन ने इस संबंध में मांगी गई अनुमति को रद्द कर दिया था।

बृहस्पतिवार को कार्यकर्ताओं ने रामपुर चुंगी पर प्रदर्शन किया, लेकिन यहां पहले से ही मौजूद भारी पुलिस बल ने उन्हें आगे नहीं बढ़ने दिया। इसके बाद प्रदर्शन स्थल पर ही ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने कार्यकर्ताओं से ज्ञापन लिया। ज्ञापन में कहा गया था कि झारखंड में 22 जून को तबरेज अंसारी की कुछ जातिवादी लोगों ने हत्या की, जो भारत में पहला मामला नहीं है।

भारत में 2016 में भी 22 मामले मॉब लिंचिंग के सामने आ चुके हैं। सरकार को इसके खिलाफ ठोक कदम उठाकर कार्रवाई करनी चाहिए। उन्होंने मांग उठाई कि तरबेज हत्याकांड के आरोपियों को फांसी और हत्याकांड में शामिल पुलिसकर्मियों की सरकारी सेवा बर्खास्त की जाए।

 
 

Related posts

Top