Apply for Journalist

ट्रकों में आगजनी व लूटपाट किए जाने के प्रकरण में किसी भी निर्दोष के साथ नाइंसाफी नहीं होगी

 
ग्रामीणों के साथ बैठक करते अधिकारीगण

विगत दिनों देवबंद-बरला मार्ग पर सड़क हादसे में बच्चे समेत तीन लोगों की हुई थी मौत

मंगलवार को पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों ने ग्रामीणों के साथ बैठक कर दिया आश्वासन

देवबंद: देवबंद-बरला मार्ग पर सड़क हादसे में बच्चे समेत तीन लोगों की मौत होने के बाद ट्रकों में आगजनी व लूटपाट किए जाने के मामले को लेकर गंभीर हुए पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों ने मंगलवार को ग्रामीणों के साथ बैठक कर उन्हें आश्वासन दिया कि प्रकरण में किसी भी निर्दोष के साथ नाइंसाफी नहीं होगी। इसके साथ ही उन्होंने ग्रामीणों से पुलिस का सहयोग किए जाने का आह्वान किया।

मंगलवार को गोपाली इंटर कालेज में आयोजित बैठक में एसडीएम राकेश कुमार सिंह ने कहा कि यातायात व्यवस्था का पूरा ख्याल रखा जाएगा। विशेषकर युवाओं को यातायात के प्रति जागरुक करने का काम किया जाएगा। सीओ अजेय शर्मा ने कहा कि आगजनी, तोडफोड व लूटपाट के मामले की समीक्षा की जाएगी। जो भी निर्दोष होंगे उन्हें मुकदमे से बाहर किया जाएगा। घटना की वीडियो देखी जाएगी उसमें जिन लोगों की पहचान होती है उनके विरुद्ध सख्त कार्रवाई होगी और उन्हें गिरफ्तार करके जेल भेजा जाएगा। उन्होंने कहा कि भारी वाहनों को देवबंद बरला मार्ग से नहीं जाने दिया जाएगा साथ ही ब्लाक कार्यालय के बाहर पुलिस पिकेट लगाकर वाहनों को रोकने का काम किया जाएगा। इसके साथ ही मोहल्ला सराय मालियान में फ्लाईओवर के शुरु में भारी वाहनों के लिए नो-एंट्री का बोर्ड लगाकर इन वाहनों को फ्लाईओवर से निकाला जाएगा। देवबंद बरला मार्ग पर पुलिसकर्मी वाहन से गश्त करेंगे। साथ ही सीओ अजेय शर्मा ने यह भी कहा कि मार्ग पर पडने वाले सभी गांवों में १०-१० लोगों की कमेटी गठित की जाए जो प्रकरण से जुड़े लोगों की पहचान कर पुलिस का सहयोग करे और भविष्य में इस प्रकार की कोई घटना घटित होती है तो गठित कमेटी मौके पर पहुंचकर मामले को निपटाने का काम करे। सीओ ने यह भी कहा कि सड़क दुर्घटना में जिन लोगों की मौत हुई है उनकी बहनों की शादी में उन्हें बुलाया जाता है तो वह अपने वेतन से १० हजार रुपये की धनराशि देंगे।

पीडब्ल्यूडी के अधिकारी एसके सक्सेना ने कहा कि जो भी सुझाव दिए गए हैं उन पर शीघ्र अमल किया जाएगा। पूर्व विधायक माविया अली ने पुलिस अधिकारियों से कहा कि प्रकरण में छात्र व युवा वर्ग को संदेह का लाभ देकर छोड़ दिया जाए ताकि उनका भविष्य बरबाद न हो। जिला पंचायत चेयरमैन पति माजिद अली ने देवबंद बरला मार्ग को फोरलेन किए जाने का सुझाव दिया। इस मौके पर सुरेंद्र सिंघल, सिकंदर अली, मो. अखलाक, मो, आकिल, जिंदा हसन, खलील अहमद, कलीम, चै. विजेंद्र सिंह, रामपाल, हरफूल सिंह, महेंद्र कुमार, नितिन कुमार, अरविंद, जगत सिंह, शुभम समेत वर्तमान व पूर्व प्रधान मौजूद रहे।

 

 
 
Top