फारुख अब्दुल्ला की जीभ काटने पर 21 लाख का ईनाम | 24CityNews

फारुख अब्दुल्ला की जीभ काटने पर 21 लाख का ईनाम

 

अम्बाला: आरएसएस पर अंग्रेजो से मिलीभगत के आरोप लगाने व भारत से PoK को पाकिस्तान का हिस्सा बताने वाले नेशनल कांफ्रेंस के नेता फारुख अब्दुल्ला की जीभ काटने वाले को 21 लाख का ईनाम देने की घोषणा की गयी है. घोषणा एंटी टेररिस्ट फ्रंट इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष विरेश शांडिल्य ने की। शांडिल्य ने केंद्र सरकार से मांग की है कि सांसद फारुख अब्दुल्ला के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज कर उन्हें जेल में भेजा जाना चाहिए।

शांडिल्य ने प्रेस कांफ्रेंस कर घोषणा की कि जो भी व्यक्ति फारुख अब्दुल्ला की जीभ काटेगा उसे वह एंटी टेररिस्ट फ्रंट इंडिया एवं श्री हिन्दू तख़्त की तरफ से 21 लाख का इनाम देंगे।

ATFI प्रमुख ने कहा अगर जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती वास्तव में J&K से प्यार करती है उन्हें तुरंत फारुख अब्दुल्ला को गिरफ्तार करना चाहिए। शांडिल्य ने केंद्र सरकार से भी मांग की कि फारुख अब्दुल्ला से जेड प्लस सुरक्षा वापस ली जाये व अब्दुल्ला का पासपोर्ट रद्द किया जाए। शांडिल्य ने आज एक पत्र भी लोकसभा स्पीकर को भेजा व श्रीनगर के सांसद फारुख अब्दुल्ला की लोकसभा सदस्यता रद्द करने की मांग की।

वीरेश शांडिल्य ने कहा फारुख अब्दुल्ला जैसे देशद्रोहियों को एंटी टेररिस्ट फ्रंट इंडिया कतई बर्दाश्त नहीं करेगा। अब्दुल्ला द्वारा आरएसएस पर अंग्रेजों से मिलीभगत का आरोप लगाये जाने पर शांडिल्य ने कहा RSS के खिलाफ बोलकर अब्दुल्ला ने 100 करोड़ हिन्दुओं का अपमान किया है। आरएसएस एक ऐसा संघ है जो हिन्दुओं की हितों की रक्षा कर रहा है।

शांडिल्य ने कहा अब्दुल्ला जैसे लोग इस धरती पर कलंक है जो देश का नाम खराब करते है। शांडिल्य ने कहा कि अब्दुल्ला PoK को पाकिस्तान को देने की बात कर रहे है, जबकी वह दिन दूर नहीं जब मोदी के नेतृत्व में इस्लामाबाद, कराची व लाहौर में भी भारतीय झंडा लहराएगा।

इस अवसर पर एटीएफआई के हरियाणा प्रधान कुलवंत सिंह मानकपुर, जसमीत जस्सी, लखविन्द्र सिंह साधापुर, संजीव सेठ, बिट्टू जट्ट आदि मौजूद थे।

 

Farooq Abdullah’s tongue bite, gets 21 lakh prize

 
 
Top