पढ़े क्या है कार्तिक पूर्णिमा का महत्‍व | 24CityNews
CrickCash.Com

पढ़े क्या है कार्तिक पूर्णिमा का महत्‍व

 
Need Reporters

प्राचीनकाल से ही कार्तिक पूर्णिमा काफी महत्‍व है। शास्‍त्रों में इस दिन गंगा स्‍नान का काफी महत्‍व बताया गया है। इसी दिन पांडवों ने महाभारत के युद्ध में मारे गए परिजनों की आत्मा की शांति के लिए गढ़मुक्तेश्वर में श्राद्ध किया था। इसी दिन गुरु नानक जी का जन्म हुआ था।

हिंदू धर्म में मान्‍यता है कि इस कार्तिक पूर्णिमा के दिन गंगाजी में डुबकी लगाने से मनुष्‍य को पूरे साल के लिए पुण्‍य की प्राप्ति होती है और कई जन्‍मों के पापों से भी मुक्ति मिलती है।

पौराणिक कथाओं के अनुसार भगवान शिव ने त्रिपुरासुर नामक महाबलशाली असुर का वध इसी दिन किया था। इससे देवताओं को इस दानव के अत्‍याचारों से मुक्ति मिली और देवताओं ने खुश होकर भगवान शिव को त्रिपुरारी नाम दिया।

भगवान विष्‍णु के भक्‍तों के लिए भी यह दिन खास है क्‍योंकि इसी दिन भगवान का प्रथम अवतार प्रकट हुआ था। प्रथम अवतार के रूप में भगवान विष्‍णु मत्‍स्‍य यानी मछली के रूप में प्रकट हुए थे। इस दिन सत्‍यनारायण भगवान की कथा करवाकर जातकों को शुभ फल की प्राप्ति हो सकती है।

मान्‍यता है कि इस दिन देवलोक में सभी देवतागण दीपोत्‍सव का आयोजन करते हैं इसलिए धरती लोक में देवदीपावली मनाई जाती है।

 
 
Top