धर्मांतरण में शामिल PFI पर बैन लगाने की तैयारी में केंद्र सरकार | 24CityNews


धर्मांतरण में शामिल PFI पर बैन लगाने की तैयारी में केंद्र सरकार

 

नई दिल्ली। धर्मांतरण कराए जाने का खुलासा होने के बाद केंद्र सरकार केरल के संगठन पीएफआई को बैन करने पर विचार कर रही है। केंद्रीय गृह राज्यमंत्री हंसराज अहीर ने बड़ा बयान देते हुए कहा कि कोई भी व्यक्ति धर्मांतरण बलपूर्वक नहीं करा सकता है। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री हंसराज अहीर ने कहा है कि खुलासे से साफ है कि पीएफआई की तरफ से घातक हरकतें चलाई जा रही हैं। देश के बाहरी देशों से मदद लेकर जिसमें से कुछ टेरर ग्रुप शामिल हैं। टेरर ग्रुप भी धर्मांतरण के इन कामों में लगे हुए हैं।

आपको बता दें कि एक टीवी न्यूज़ चेनल स्टिंग में खुलासा किया है कि पीएफआई संगठन केरल में हिंदू और ईसाई लोगों को मुस्लिम बनाया जा रहा है। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री हंसराज अहीर ने ये भी कहा कि मैं भी जब मई जून में केरल गया था मेरे पास भी शिकायत आई थी। शिकायत में कहा गया था कि एक महीने में एक हजार से ज्यादा लोगों के धर्मांतरण कराए गएॉ। गृह राज्य मंत्री हंसराज अहीर ने कहा कि वहां की पुलिस से भी हमने रिपोर्ट मांगी है कि कैसे ये धर्मांतरण का नेक्सस चल रहा है? उसकी जानकारी दें। हंसराज अहीर ने बताया कि डीजीपी ने भी कहा कि 3 महीने में 3000 लोगों के धर्मांतरण की जानकारी उनके पास हैं।

केंद्रीय गृह राज्यमंत्री हंसराज अहीर ने कहा कि खुलासे से साफ जाहिर हो रहा है कि पैसा किस तरीके से विदेशों से टेरर ऑर्गनाइजेशन भी भेज रहे हैं। जिसके जरिए केरल जैसे राज्य में लोग धर्मांतरण कराने में जुटे हुए हैं। एनआईए के पास जो भी रिपोर्ट आना है वो आ गई है। ऐसे में पीएफआई पर बैन लगाने की जरूरत पड़ेगी तो जरूर बैन लगेगा।

बुधवार को केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि केरल में लव जिहाद के नाम पर आतंकी गतिविधियां चल रही हैं। उन्होंने कहा कि लव जिहाद देश का एक बड़ा मसला है, इसके जरिए युवाओं को बहकाया जा रहा है। प्रसाद ने कहा कि लव जिहाद कोई छोटा मामला नहीं है ये राष्ट्रीय सुरक्षा का मसला है। प्रसाद ने कहा कि कुछ आतंकी इस्लामिक स्टेट को केरल में स्थापित करना चाहते हैं, ये विदेशों से पैसा हासिल कर रहे हैं।

Central Government in preparation for ban on PFI involved in conversion

 

 
 
loading...

Related posts

Top