कानपुर बवाल: ताजिया जुलूस में शामिल भीड़ ने पुलिस पर किया पथराव व आगजनी, SP सहित कई घायल | 24CityNews


कानपुर बवाल: ताजिया जुलूस में शामिल भीड़ ने पुलिस पर किया पथराव व आगजनी, SP सहित कई घायल

 

कानपुर: उत्तर प्रदेश के कानपुर में रावतपुर के बाद अब जूही क्षेत्र में भी तनाव की स्थिति पैदा हो गई है। रविवार को ताजिया जुलूस रोकने पर दो पक्ष आपस में भिड़ गए। दोनों पक्षों के बीच जमकर पत्थरबाजी हुई। इस दौरान सड़कों पर खड़ी गाड़ियां जला दी गईं। तनाव बढ़ता देख मौके पर पहुंची पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। इस घटना में एसपी साउथ अशोक वर्मा और एक दारोगा सहित करीब आधा दर्जन पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। पुलिस की कई गाड़ियों के शीशे तोड़े गए हैं। फिलहाल तनाव की स्थिति को देखते हुए मौके पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

इस पूरे मामले में प्रशासन की लापरवाही सामने आई है। दरअसल, पहले ही कानपुर के कई इलाकों में माहौल बिगड़ने की आशंका जताई जा रही थी। इंटेलिजेंस ने भी इस बारे में आगाह किया था। पर, प्रशासन ने इसे हल्के में लिया और उसका नतीजा सामने है। कानपुर के कई इलाकों में पिछले कुछ दिनों से तनाव की स्थिति बनी हुई है।

जानकारी के मुताबिक परंपरा के मुताबिक ताजिया के जुलूस को जूही क्षेत्र स्थित झंडेवाला चौराहे से मुड़ना होता है। इस बार जुलूस जैसे ही चौराहे से आगे बढ़ा पुलिस ने जुलूस को रोकने की कोशिश की ताकि बाद में कोई विवाद न पैदा हो। लेकिन पुलिस के जुलूस को रोकते ही जुलूस में कुछ लोग आक्रोशित हो गए और पुलिस के साथ धक्का-मुक्की करने लगे।  इसी बीच आसपास से पत्थरबाजी शुरू हो गई और स्थिति बिगड़ गई।

मामला बिगड़ा तो कुछ अराजक तत्वों ने आगजनी शुरू कर दी और आसपास खड़ी बाइकों में आग लगा दी। इसके बाद पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। इस दौरान हुई पत्थरबाजी में पुलिसकर्मियों के साथ करीब दर्जन भर आम नागरिकों को भी चोट पहुंची है। बाद में बढ़ते तनाव को देखते हुए बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स को मौके पर बुला लिया गया, जिसके बाद वहां स्थिति को काबू में किया जा सका।

रावतपुर में बरकरार है तनाव
उधर, रावतपुर में अभी भी तनाव बरकरार है। बताया जा रहा है कि दशहरे के दिन से ही दो समुदायों में आपसी झड़प को लेकर शुरू हुए विवाद के कारण अभी भी तनाव की स्थिति बनी हुई है। यहां पर पुलिस पर एकपक्षीय कार्रवाई का आरोप लगाते हुए एक समुदाय के लोगों की पुलिस के साथ झड़प हो गई थी जिसके बाद पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा था।

 
 
Top