बच्चों का भविष्य संवारने में शिक्षकों की महत्वपूर्ण भूमिका-डीएम | 24CityNews


बच्चों का भविष्य संवारने में शिक्षकों की महत्वपूर्ण भूमिका-डीएम

 

मुंडेट में आयोजित कार्यक्रम में सेवानिवृत्त शिक्षकों को डीएम ने किया सम्मानित

शामली। डीएम इंद्र विक्रम सिंह ने कहा है कि बच्चों के भविष्य को संवारने व निखारने में अध्यापकों की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। उन्होंने कहा कि अध्यापक अपने पद को नौकरी न समझते हुए सेवा एवं मनायोग से बच्चों को शिक्षित करने का कार्य करे ताकि देश का विकास एवं भविष्य उज्जवल हो सके। इस अवसर पर सेवानिवृत्त शिक्षकों को डीएम द्वारा स्मृति चिन्ह प्रदान कर सम्मानित भी किया गया। जानकारी के अनुसार सोमवार को गांव मुंडेट कलां स्थित प्राइमरी पाठशाला में उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ द्वारा आयोजित शिक्षक सम्मान समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में पहुंचे डीएम इंद्र विक्रम सिंह ने कहा कि अध्यापक अपने पद को नौकरी न समझें तथा सेवा व मनोयोग से बच्चांे को शिक्षा देने का कार्य करें ताकि बच्चों का भविष्य उज्जवल हो सके और वे देश में उच्च पदों पर काम कर अपने शिक्षकों व परिजनांे का नाम रोशन कर सके। डीएम ने प्राइमरी पाठशालाओं के गिरते स्तर पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि आजकल लोग अपने बच्चों को सरकारी स्कूलों के बजाय प्राइवेट स्कूलों में शिक्षा दिला रहे हैं। सरकार प्राइमरी स्कूलों में बच्चों को बेहतर शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि जो बीज हम आज बोएंगे वह उपयुक्त समय आने पर उग जाएंगे और फसल लहराकर पर्यावरण को शुद्ध करेगी। इस अवसर पर डीएम ने सेवानिवृत्त प्रधानाध्यापक शशि प्रभा, साधुराम, सहायक अध्यापक रामकुमार गुप्ता, ऋषिपाल शर्मा का माल्यार्पण कर उन्हें स्मृति चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया। इस अवसर पर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी चंद्रशेखर, योगेन्द्र गुप्ता, भारत भूषण त्यागी, राकेश कुमार वालिया, विजेन्द्र सिंह एबीएसए, रश्मि वर्मा, योगेश राठी, शिवपाल पुंडीर, गांव प्रधान राजपाल सिंह आदि भी मौजूद रहे।

दूसरी ओर शहर के वीवी इंटर कालेज में शिक्षक दिवस पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ कालेज प्रबंध समिति के अध्यक्ष जयप्रकाश संगल, प्रबंधक संजय संगल ने पूर्व राष्ट्रपति डा. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर किया। कालेज के शिक्षकों ने पूर्व राष्ट्रपति के जीवन चरित्र पर प्रकाश डाला। डा. अनुराग शर्मा ने कहा कि शिक्षक राष्ट्र निर्माता व राष्ट्र की धुरी है। इस मौके पर प्रधानाचार्य एसके आर्य, प्रदीप गोयल, रजनीश कुमार, वीके गुलाटी, अर्जुन राम, केडी यादव, राजीव बाबू, शशि वर्मा, अर्चना शर्मा आदि मौजूद रहे।

 
 
Top