UP में आग से तबाही, 700 बीघा फसल जलकर राख, तीन बच्चे भी जिंदा जले | 24CityNews
CrickCash.Com

UP में आग से तबाही, 700 बीघा फसल जलकर राख, तीन बच्चे भी जिंदा जले

 
Need Reporters

कानपुर: UP के कानपुर और आसपास कई जिलों में आग ने बड़ी तबाही मचायी है। फर्रुखाबाद में खेत पर पड़ी झोपड़ी के अंदर तीन बच्चों की आग से जलकर मौत हो गई। फतेहपुर, उन्नाव, कानपुर देहात, इटावा समेत कई जिलों में कई-कई जगह आग लगी जिससे 700 बीघे से ज्यादा गेहूं की फसल राख हो गई। खून-पसीना बहाकर फसल काटने के समय इस तबाही से किसानों के परिवारों में कोहराम मचा है।

फर्रुखाबाद की अमृतपुर तहसील के सुंदरपुर कटरी गाँव में दोपहर बाद लगी आग में मनफूल के तीन बच्चे धर्मेन्द्र (9), आलोक (6) और दिव्यांशी (डेढ़ साल) झोपड़ी के अंदर ही आग से जलकर मर गए। इनका एक भाई भी बुरी तरह आग से झुलस गया।

गांव वालों ने बताया कि बच्चे खेत में स्थित झोपड़ी में खेल रहे थे जबकि पूरा परिवार फसल काट रहा था। इस बीच फसल में आग लग गई, तेज हवा से आग तेजी से फैली और करीब पांच सौ बीघे फसल को चपेट मे ले लिया। चारो तरफ आग फैलने से परिवार वाले जान पर खेल कर जब तक झोपड़ी तक पहुंचते तीन बच्चों की मौत हो चुकी थी।

फतेहपुर में आग से करीब 41 बीघा गेहूं की फसल जल कर राख हो गई हैं। यहां के किशनपुर क्षेत्र में जंगल में आग लगने से पड़े पैमाने पर नुकसान होने का अनुमान है। बाईपास स्थित रिलायंस पेट्रोल पंप के पीछे शार्ट सर्किट से गेहूं की फसल में आग लग गई। तेज हवा के कारण आग बढ़ते हुए पेट्रोल पंप की ओर आ रही थी। आसपास के लोग और पेट्रोल पंप के कर्मचारियों ने पंप से एक खेत पहले आग बुझा ली जिससे बड़ा हादसा टल गया। घटना में जाबर सिंह समेत आठ किसानों का करीब 32 बीघा गेहूं की फसल जल गई।

गाजीपुर-असोथर रोड के किनारे शार्ट सर्किट से चार बीघा गेहूं की फसल राख हो गई। किशनपुर क्षेत्र के गोदौंरा गांव के पास ससुर खदेरी नदी के पास स्थित जंगल में किसी ने महुआ बीनने के लिए खरपतवार में आग लगा दी। तेज हवा चलने पर आग फैल गई और जंगल समेत आसपास के खेतों में खड़ी फसल को चपेट में ले लिया। जहानाबाद कस्बे में आग से सब्जी की दो दुकानें जल कर राख हो गई। बहुआ क्षेत्र में आग लगने की सूचना टीम को मौके पर भेजा गया। धाता के तुलसीपुर गांव में आग लगने से दर्जन भर घर जल कर राख हो गए।

इटावा में थाना चकरनगर के ग्राम महुआ सुण्डा में आग से तीन एकड़ गेहू की फसल जल कर राख हो गई। ग्रामीणों ने बताया कि आग बिजली के तारों से गिरी चिनगारी से लगी। इसी तरह कानपुर देहात के शिवली में गेहूं के खेतों में लगी आग से कई बीघा फसल राख हो गई। उरई के कुठौन्द क्षेत्र में इटाहा-कालपी में देर रात लगी आग से एक घर जल गया और मवेशी की जलने से मौत हो गई। आग से एक बच्ची झुलस गई। उन्नाव के कनवहापुर में आग से 14 बीघे से ज्यादा गेहूं की फसल राख हो गई।

 

 
 
loading...

Related posts

Top