दिल के गंभीर रोगों में असरकारी है एवोकाडो | Page 2 of 2 | 24CityNews
CrickCash.Com

दिल के गंभीर रोगों में असरकारी है एवोकाडो

 
Need Reporters

जैसे ही एवोकाडो को तोड़ते हैं वह पकने लगता है। जब वह पकने के क्रम में होता है तो उसका बाहरी हिस्सा कुछ सख्त जरूर होता है, लेकिन वह पूरी तरह से कड़ा नहीं होता। अगर आप कुछ कच्चे एवोकाडो खरीदें तो उसे कमरे में ही तीन-चार दिनों के लिए छोड़ दें जब तक उसका ऊपरी हिस्सा मुलायम न हो जाए। अगर उसे जल्दी खाना है तो उसे पेपर में लपेटकर दो-तीन दिनों के लिए कमरे में ही रखें।

एवोकाडो को खाने के लिए बीचों बीच चाकू से लम्बाई में काटें। इसके टुकड़ों को दोनों हाथों से पकड़ें यह आसानी से अलग हो जाएगा। अब इसके गूदे को चम्मच से निकालें और उसका आनन्द लें। बच्चों को खिलाने के लिए एवोकाडो के गूदे को मसलकर दें। स्वाद बढ़ाने के लिए आप इसमें टमाटर, प्याज और लहसुन भी डाल सकते हैं। बढ़ते बच्चे को एवोकाडो की सेंडविच बनाकर भी दे सकते हैं।

Avakoda is very usefull for heart patient.

 
 

Top